राम मंदिर की नीव डिज़ाइन पर लग गई अंतिम मुहर, जानें कब शुरु होगा निर्माण कार्य

अयोध्या: अयोध्या में लगातार दो दिन से चल रही अहम् बैठक के बाद आज बड़ा फैसला आ गया है बता दें कि बैठक के दूसरे दिन राम मंदिर के नींव पर फैसला ले लिया गया. बैठक में राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्रा, ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय और सदस्यों ने नींव की डिजाइन पर अंतिम मुहर लगा दी है.

मंदिर का डिजाइन मुंबई के एक लैब में बन रहा है और फरवरी में प्रिंट होकर अयोध्या पहुंचेगा. हालांकि 40 फीट खोदकर मलबा हटाने का काम शुरू कर दिया गया है नृपेंद्र मिश्र ने गुरुवार को ही देव शिल्पी विश्वकर्मा की पूजा कर मलबा हटाने का काम शुरू करवा दिया था. अयोध्या के सर्किट हाउस में राम मंदिर निर्माण समिति की दूसरे दिन की बैठक अब संपन्न हो गई है.

नीव की डिज़ाइन पर लगी अंतिम मुहर

राम मंदिर के नींव की डिजाइन का प्रेजेंटेशन मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र समेत ट्रस्ट के पदाधिकारियों सदस्यों के सामने दिया गया जिस पर नींव की डिजाइन को लेकर सहमति बन गयी है. मंदिर निर्माण की शुरुआत हुई थी तो नींव को लेकर एक प्रयोग असफल हो गया था जिसमें नीव के अंदर की मिट्टी भुरभुरी पाई गई थी.

नीव तय करेगी राम मंदिर की मजबूती

विशेषज्ञों की रिपोर्ट के बाद नींव की खुदाई का काम रोक दिया गया था. फरवरी माह में जब डिजाइन बनकर अयोध्या पहुंचेगा तब तक मलबा हटाने के काम समाप्त हो चुका होगा और मंदिर के नींव पर काम शुरू हो जाएगा. नीव की डिज़ाइन ऐसी होगी जिससे शताब्दियों तक राम मंदिर खड़ा रह सके, इसे लेकर ही टाटा एलएनटी के इंजीनियर व ट्रस्ट के बीच तालमेल नहीं बैठ पा रहा था , लेकिन अब ये दुविधा भी समाप्त हो चुकी है.

ये भी पढ़ें: पूर्व मुख्य न्यायाधीश को क्यों देनी पड़ी Z+ सुरक्षा, आखिर किस बात का है डर?

Related Articles

Back to top button