प्रेमी से बात न करना छात्रा को पड़ा भारी, चुकानी पड़ी ये बड़ी कीमत

0

इलाहबाद। इलाहाबाद से सटे फाफामऊ कस्बे में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां शांतिपुरम कॉलोनी के प्रतियोगी छात्र अजीत कुमार मौर्या की एमए की छात्रा कीर्ति यादव से दोस्ती थी। लेकिन तीन महीने पहले शादी होने के बाद अचानक कीर्ति ने मिलना बंद कर दिया। इसपर गुस्साए अजीत ने उसे सड़क पर रोककर सबके सामने तमंचे से गोलियां चला दी। इसके बाद अजीत ने खुद को भी गोली मारकर मौत के घाट उतार लिया। उसके जेब में एक सुसाइड नोट मिला है पुलिस उसकी  जांच हो रही है।

छात्रा को मारी गोली

छात्रा को मारी गोली उसके बाद युवक ने खुद की ली जान

बता दें, 26 वर्षीय अजीत कुमार नवाबगंज में हथिगवां निवासी शिवकुमार मौर्या का बेटा है। शिवकुमार की चौराहे पर परचून की दुकान है। अजीत बीए की पढ़ाई के बाद अब एसएससी समेत दूसरी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में जुटा था जिसके लिए वो शांतिपुरम स्थित एक कोचिंग में जाता था। छात्रा कीर्ति यादव भी नवाबगंज के महमदपुर गांव की रहने वाली थी। उसके पिता नारायण प्रसाद यादव सिंचाई विभाग में काम करते हैं।

कीर्ति अपनी चार बहनों में सबसे बड़ी है और तीन महीने पहले ही उसकी शादी शहर के झलवा में हुई है। राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय से वो एमए की पढ़ाई कर रही है। इस समय वो अपने मायके में थी और शांतिपुरम स्थित विश्वविद्यालय परिसर में राजनीति विज्ञान की परीक्षा देने गई थी।

सुबह पिता ने उसको सेंटर पर छोड़ दिया था। परीक्षा दस बजे ख़त्म होने के बाद कीर्ति पैदल ऑटो में बैठने जा रही थी तभी अचानक अजीत उसके पास आ गया। घटनास्थल पर मौजूद लोगों के मुताबिक, कुछ दूर तक दोनों साथ गए फिर एचडीएफसी बैंक की शाखा के पास अजीत ने तमंचा निकला और कीर्ति की कनपटी पर फायर कर दिया।

गोली लगने से कीर्ति वहीँ घायल हो गयी। उसके बाद अजीत ने दोबारा तमंचा लोड करके अपनी दाहिनी कनपटी पर नाल सटाकर खुद को गली मार ली। उसके हाथ से तमंचा वहीँ सड़क पर गिर गया। वहां तुरंत लोगों की भीड़ लग गयी। लोगों ने फाफामऊ चौकी पर सूचना दी मौके पर पुलिस पहुंची।

उन दोनों को शहर में एसआरएन अस्पताल ले जाया गया। एसपी गंगापार सुनील सिंह भी मजिस्ट्रेट के साथ आ गए। अजीत की कुछ देर बाद मौत हो गई। हालांकि गोली धंसने के बावजूद कीर्ति की हालत सामान्य थी। उसने एसपी गंगापार को बताया कि अजीत से उसकी दोस्ती थी लेकिन शादी के बाद उससे बातचीत बंद कर दी थी। इसी वजह से वह भन्नाया था। वह उसके पीछे पड़ गया था और मिलने पर धमकाता था।

बीते दिन वो उसकों मारकर आत्महत्या करने के इरादे से तमंचा लेकर आया और उसने जो सोचा था वो कर डाला। इधर डॉक्टरों के मुताबिक, लम्बे ऑपरेशन के बाद कीर्ति के सर में धंसी गोली निकाली जाएगी। कीर्ति के पिता ने अजीत के खिलाफ हत्या की कोशिश का मामला दर्ज कराया है।

loading...
शेयर करें