राज्यपाल ने मोदी सरकार पर साधा निशाना बोले किसान आंदोलन को दबा रही सरकार

कृषि कानूनों पर संसद में चर्चा के बीच मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा है कि किसानों के आंदोलन को दबाया नहीं जा सकता।

नई दिल्ली: कृषि कानूनों पर संसद में चर्चा के बीच मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा है कि किसानों के आंदोलन को दबाया नहीं जा सकता और यदि किसानों के साथ बुरे तरीके से निपटा गया, तो इसके दूरगामी परिणाम होंगे।

मलिक ने शुक्रवार को यहां संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि आंदोलन देश के कोने-कोने तक पहुंच गया और अब यह स्थानीय आंदोलन नहीं है। उन्होंने कहा कि गतिरोध को जल्द से जल्द बातचीत के माध्यम से समाप्त किया जाना चाहिए क्योंकि किसी भी आंदोलन को दमन के सहारे समाप्त नहीं किया जा सकता है।

उन्होंने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से इस समस्या का समाधान करने के लिए कुछ उदारता दिखाने की अपील की है। किसानों के आंदोलन को बड़ा आंदोलन बताते हुए उन्होंने कहा कि निजी तौर पर केंद्रीय मंत्री को यह बात बतायी है तथा उनके यह संदेश प्रधानमंत्री नरेंद्र तक पहुंचाने की अपील भी की है।

राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा, ‘गृह मंत्री बहुत ही ग्रहणशील हैं और उनके हस्तक्षेप के बाद ही राकेश टिकैत की गिरफ्तारी से बचा गया और बलों को वापस बुला लिया गया।

यह भी पढ़े: गिरिराज ने कहा, वामपंथी और टुकड़े-टुकड़े गैंग मोदी की उपलब्धियों पर फेर रहे पानी

Related Articles

Back to top button