दूल्हे को आया गुस्सा तो लौटायी बरात, इंतजार करते रह गयी दुल्हन,सुबह भाई कि मिली लाश  

यूपी: उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद में एक दिल दहेला देनो वाली घटना सामने आयी.जो हर किसी को हैरान कर दिया.बता दे की सोमवार को आई एक बरात बिना दुल्हन को लिए वापस लौट गई। दुल्हन मंडप पर दूल्हे का इंतजार करती रही पर वो नहीं आया। सुबह हुई तो दुल्हन के भाई की मौत की खबर घर पहुंची। जिससे परिजनों में कोहराम मच गया। भाई की मौत की खबर सुन दुल्हन बेहोश हो गई।फर्रूखाबाद में शमसाबाद थाना क्षेत्र के गांव गुमिदापुर निवासी किसान रामपाल की बेटी लक्ष्मी की बरात नवाबगंज थाना क्षेत्र के गांव अठसेनी पहाड़पुर से सोमवार देर शाम गांव पहुंची।

नाश्ता कराने के लिए गांव के बाहर ही बरात को सड़क पर रोका गया। वहां बरातियों को नाश्ता दिया जा रहा था।तभी रामपाल पक्ष के लोगों का बरातियों से विवाद हो गया। इससे दूल्हा मनोज पुत्र यादराम गुस्सा गया। वह अपनी कार खुद लेकर चल दिया। तेजी से कार मोड़कर भागने में वहां खड़ी रामपाल की रिश्तेदार गांव भटासा निवासी विमला पत्नी पप्पू, गांव गुमिदापुर निवासी मिथलेश पत्नी वीरपाल व सपना पुत्री प्रेमपाल घायल हो गईं।इससे वहां अफरा-तफरी मच गई। मंडप में दुल्हन इंतजार करती रही और बरात वापस लौट गई।

घायलों को सीएचसी से लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस दौरान रामपाल का 12 वर्षीय बेटा परिजनों को नजर नहीं आया। इस पर परिजनों ने खोजबीन की पर कुछ पता नहीं चला।मंगलवार सुबह गांव के लोग खेतों की ओर गए तो गांव के बाहर सड़क किनारे झाड़ियों में दुल्हन के भाई प्रांशु का शव पड़ा मिला। उसके शरीर पर चोट के निशान थे। मां लौंगश्री ने बेटे की हत्या किए जाने का आरोप लगाया। वहीं पुलिस दुर्घटना में किशोर की मौत होने की बात कह रही है।

Related Articles