IPL
IPL

छिपकली ने तोड़ा World Record, रहती है धरती से इतने हज़ार फ़ीट ऊपर

आज हम आपको ऐसी ही एक छिपकली के बारे में बताएंगे जिसने विश्व के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। ये दुनिया की सबसे ज्यादा ऊंचाई पर रहने वाली छिपकली है। इस छिपकली को हाल ही में समुद्र तल से 5400 मीटर यानी 17,716.54 फीट की ऊंचाई पर देखा गया है।

नई दिल्ली : यह दुनिया बहुत ही अजीब है। यहाँ तरह-तरह के लोग रहते हैं। कुछ जीव धरती पर रहते हैं, कुछ पहाड़ों पर, कुछ आसमान में उड़ना पसंद करते हैं और कुछ पानी के अंदर रहते हैं। ऐसे ही कुछ जीव में से एक छपकली भी है, जिसे हम अक्सर अपने घर की दीवारों पर देखते हैं। आजतक आपने इंसानों के ऊंचाइयों पर पहुँचने के किस्से सुने होंगे लेकिन क्या आपने कभी किसी छिपकली को उचाईयों तक पहुँचने के सभी रिकॉर्ड तोड़ते हुए देखा या सुना है ? आज हम आपको ऐसी ही एक छिपकली के बारे में बताएंगे जिसने विश्व के सारे विश्व रिकॉर्ड (World Record) तोड़ दिए हैं। आइए जानते हैं इस छिपकली के बारे में कुछ रोचक बातें :

टैकने ने किस छिपकली का तोड़ा रिकॉर्ड

ये दुनिया की सबसे ज्यादा ऊंचाई पर रहने वाली छिपकली है। इस छिपकली को हाल ही में समुद्र तल से 5400 मीटर यानी 17,716.54 फीट की ऊंचाई पर देखा गया है। अब तक कभी किसी छिपकली को इस ऊंचाई पर नहीं देखा गया है। इस छिपकली ने ऊंचाई पर मिलने वाली छिपकलियों के सारे विश्व रिकॉर्ड (World Record) तोड़ दिए हैं। इससे पहले टॉड हैडेड अगामा ने 5300 मीटर की ऊंचाई पर रहकर एक नया रिकॉर्ड बनाया था।

किसने किया खुलासा

इस छिपकली का नाम लियोलाइमस टैक्ने (Liolaemus Tachnae) है। इसके बारे में हाल ही में हर्पेटोजोआ (Herpertozoa) नामक मैगजीन ने इसका खुलासा किया है। इस छिपकली को लेकर मैगज़ीन में एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई है। इस रिपोर्ट में बताया गया है कि लियोलाइमस टैक्ने (Liolaemus Tachnae) को दक्षिण अमेरिका के एक महाद्वीप पर देखा गया है। इस महाद्वीप का नाम पेरू (Peru) है। यहाँ के एंडीज के पहाड़ों पर लगभग 17,716 फीट की ऊंचाई पर देखा गया है।

यह भी पढ़ें :

क्या कहते हैं शोधकर्ता

आपको बता दें कि एंडीज़ पर्वतों पर अल्ट्रावॉयलेट किरणें काफी तेज़ होती हैं। वहीँ इतनी ऊंचाई होने के कारण यहाँ पर तापमान में अंतर भी होता है। साथ ही साथ यहाँ ऑक्सीजन की भी कमी होती है। जिससे सांस लेने में काफी समस्या होती है। इसके बावजूद भी यह छिपकली इतनी ऊंचाई सर्वाइव कर सकती हैं। बता दें कि इन छिपकलियों को ट्री-इगुआना (Tree-iguana) के नाम से भी जाना जाता है।

बता दें कि जीव विज्ञानी जोस सेर्डेन और उनके सहयोगियों ने अक्टूबर 2020 में पेरू के चचानी ज्वालामुखी पर चढ़ाई थी। इसकी ऊंचाई समुद्र तल से 6,057 मीटर यानी 19872 फीट है। वहां उनकी टीम लियोलाइमस टैक्ने (Liolaemus Tachnae) की तलाश कर रही थी। टीम ने उन्हें खोज भी निकाला क्योंकि वो 5,000 मीटर तक चढ़ाई कर चुके थे।

टैकने को समझा था चूहा

जोस सेर्डेन का कहना है कि हमनें चट्टानों के बीच कुछ हिलते हुए देखा, पहले तो हमे लगा कि वो चूहा है। जब हमारी टीम ने पास जाकर देखा तो पाया कि यह जानवर छिपकली है। जिसे लियोलाइमस टैक्ने (Liolaemus Tachnae) के रूप में पहचाना जाता है.

Related Articles

Back to top button