इस फल में छुपा है सुंदर बनने का जादू, बढ़ती उम्र के लक्षणों को जल्दी आने से रोकता है यह Fruit

शहतूत (Mulberry) का फल खाने में जितना स्वादिष्ट होता है। उतना ही फायदेमंद सेहत के लिए भी होता है

लखनऊ: शहतूत (Mulberry) का फल खाने में जितना स्वादिष्ट होता है। उतना ही फायदेमंद सेहत के लिए भी होता है। इसका पेड़ छोटे से लेकर मध्यम आकार का 10 मीटर से लेकर 20 मीटर तक ऊंचा होता है और यह तेजी से बढ़ता है। इसका जीवनकाल (Life) कम होता है। यह चीन का देशज है किन्तु अन्य स्थानों पर भी आसानी से इसकी खेती की जाती है।

शहतूत को संस्कृत में ‘तूत’, मराठी में ‘तूती’, कहा जाता है। यह फल दिखने में जितना आकर्षक होता है उतना ही सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है। इसके फल में पोटेशियम, विटामिन A और फॉस्फोरस प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।

Mulberry (शहतूत) खाने के फायदे

  • शहतूत खाने से पाचन शक्ति अच्छी रहती है।
  • इसका फल सर्दी (Cold) और जुकाम में भी फायदेमंद होता है।
  • यूरिन (Urine) से जुड़ी कई समस्याओं में भी फायदेमंद होता है।
  • गर्मी के मौसम में शहतूत खाने से लू नहीं लगती है।
  • इसके फल के सेवन से लीवर (Lever) से जुड़ी बीमारियों में भी फायदा होता है।
  • शहतूत के फल का सेवन करने से आंखों की रोशनी बढ़ती है।.
  • इस फल को खाने से बढ़ती उम्र के लक्षणों को जल्दी आने से रोकने में भी मददगार साबित होता है।

  • इसका फल चेहरे से दाग-धब्बे हटा कर उस जगह को साफ करता है।
  • चेहरे की झुर्रियों को मिटाने के लिए भी शहतूत का फल लाभदायक होता है।
  • इसके फल का जूस पीने से चेहरे की त्वचा में जान आ जाती है।

रेशम (Silk) के कीड़ों को खिलाने के लिये सफेद शहतूत (White Mulberry) की खेती की जाती है। यह भारत के अन्दर खासकर उत्तर भारत में उत्तर प्रदेश बिहार झारखण्ड मध्य-प्रदेश हरियाणा पंजाब हिमाचल-प्रदेश इत्यादि राज्यों में अत्यधिक इसकी खेती की जाती है।

यह भी पढ़ेमंगलवार को मीट की दुकानें होंगी बंद तो शुक्रवार को भी ना खुले शराब की दुकान: ओवैसी

Related Articles