असम की मॉडल से दुष्कर्म विदेश न भाग पाए मुख्य आरोपी

लखनऊ। कानपुर में असम की मॉडल के साथ दुष्कर्म के मामले में पांचों आरोपियों के खिलाफ अपहरण कर बंधक बनाने की धारा भी बढ़ेगी। आरोपियों ने पीड़िता को बंधक बनाकर बंगले में रखा था। असम की मॉडल 15 मार्च को जंगल वाटर पार्क में पूल पार्टी में आई थी। बहाने से बंगले में ले जाकर अमित अग्रवाल, दोस्त समीर अग्रवाल, कपड़ा कारोबारी मोहम्मद इकबाल, इवेंट कंपनी का मालिक सक्षम साहू और ड्राइवर मनोज ने उसके साथ छेड़खानी कर दुष्कर्म का प्रयास किया था। मामले में चार आरोपी जेल भेजे जा चुके हैं। अमित फरार है। ग्वालटोली इंस्पेक्टर विजय शंकर पांडेय ने बताया कि विवेचना में साक्ष्य मिले हैं कि पीड़िता का अपहरण कर बंगले में बंधक बनाया गया था। अब धाराएं बढ़ाई जाएंगी।

विदेश न भाग पाए आरोपी
एसपी पश्चिम डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि मुख्य आरोपी अमित अग्रवाल विदेश न भाग पाए, इसलिए पुलिस विदेश मंत्रालय से संपर्क कर लुक आउट नोटिस जारी कराया गया है। वहीं सर्विलांस टीम ने उसकी लोकेशन पहले जयपुर और फिर दिल्ली में ट्रेस की है। तलाश में टीमें रवाना हो चुकी हैं।

महिला आयोग ने मांगी रिपोर्ट
हाईप्रोफाइल मामले को महिला आयोग ने भी संज्ञान में लिया है। 24 घंटे के भीतर पुलिस से घटनाक्रम की रिपोर्ट मांगी है। इसके अलावा शासन ने भी रिपोर्ट तलब की है। शासन ने निर्देश दिए हैं कि मामले में जिस पुलिस कर्मी की भूमिका संदिग्ध मिले, उसकी जांच करवाकर कार्रवाई की जाए।

पीड़िता ने पुलिस की तारीफ
पीड़िता महिला थाना पुलिस की देखरेख में है। ग्वालटोली इंस्पेक्टर विजय शंकर पांडेय ने बताया कि बुधवार तड़के करीब चार बजे पीड़िता की मां शहर पहुंची। दोपहर दो बजे मां-बेटी समेत अन्य परिजन पुलिस की सुरक्षा में लखनऊ एयरपोर्ट के लिए निकल गए। शाम चार बजे गुवाहाटी (असम) के लिए फ्लाइट से रवाना हो गए। जाते वक्त पीड़िता ने एसपी पश्चिम डॉ. अनिल कुमार और महिला थाने की पुलिसकर्मियों की तारीफ की। कहा कि स्टाफ ने उसकी परिवार की तरह देखभाल की।

मेरी बेटी सुरक्षित, पुलिस के प्रति बदला नजरिया
पीड़िता की मां ने बताया कि जब उनको घटना की सूचना मिली तो वे डर गई थीं। तमाम सवाल थे कि बेटी के साथ क्या हुआ होगा, पर अब बेटी से मिलकर बड़ा सुकून मिला कि वह महफूज है। उन्होंने कहा कि यूपी पुलिस के प्रति उनका नजरिया भी बदल है।

Related Articles