सगे मामा के अपनी भांजी को किया अगवा,जबरन भरी मांग, पूछताछ में हुआ खुलासा 

उत्तर प्रदेश:अलीगंज क्षेत्र के एक गांव से मामा अपनी सगी नाबालिग भांजी का अपहरण करके ले गया। इस मामले की रिपोर्ट बृहस्पतिवार को पीड़िता के पिता ने दर्ज कराई थी। सोमवार को पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं मामा की करतूतों का खुलासा हो गया कि उसने जबरन किशोरी की मांग में सिंदूर भरा और साथी ने दुष्कर्म किया।थाना अलीगंज पुलिस द्वारा अपहरण के मामले में वांछित चल रहे तीनों आरोपियों की तलाश में लगातार दबिश दी जा रही थी। सोमवार को एक आरोपी दीपक पुत्र नेपाल सिंह निवासी तिलियानी थाना बिछवां जिला मैनपुरी को गढ़िया भरापुरा से गिरफ्तार कर लिया गया। प्रभारी निरीक्षक पंकज कुमार मिश्रा ने बताया कि दीपक और मुकेश पुत्र पुन्नालाल किशोरी को अपने साथ चलने की बात कहकर ले गए थे।

मुकेश की नीयत पहले से ही अपनी भांजी पर खराब थी। अपहरण करने के बाद मुकेश ने किशोरी की मांग में जबरन सिंदूर भर दिया और उसको पत्नी बनाकर रखना चाहता था। नाबालिग किशोरी को धमकाकर दीपक ने जबरन संबंध बनाए तो उसकी तबियत बिगड़ गई। जिसके बाद दोनों किशोरी को गांव के बाहर छोड़ गए थे। पुलिस ने पहले से ही दोनों के खिलाफ पॉस्को एक्ट में कार्रवाई की हुई है। गिरफ्तार आरोपी को जेल भेज दिया गया है जबकि फरार आरोपियों की तलाश में दबिश दी जा रही है।
विवाहिता के साथ ससुर ने दवा सुंघाकर किया ‘गंदा काम’

एटा के थाना रिजोर में एक विवाहिता द्वारा लिखाए गए मुकदमे में आरोप लगाया गया है कि उसकी ससुराल गांव जरैट जिला अलीगढ़ में है। शादी के बाद से ही पति संतोष कुमार पुत्र राजवीर दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगा। मायकेवालों ने बिचौलिया आदि के माध्यम से समझाने का प्रयास किया लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ा।

आरोप है कि पति घर में कुकर्म करता था। एक दिन ससुर दवा सुंघाकर बाजरा के खेत में ले गया और उसके साथ कई लोगों ने बारी-बारी से  दुष्कर्म किया। उसने अपने मायकेवालों को पूरी बात बताई तो वह अपने साथ ले आए।उसने रिपोर्ट दर्ज कराने का प्रयास किया तो पुलिस ने एक नहीं सुनी। इसके बाद अदालत की शरण लेनी पड़ी। कोर्ट के आदेश पर रविवार को पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

 

Related Articles

Back to top button