संविधान को शर्मिंदा करने वाले indore वाक़िये को मंत्री ने कहा सही

इंदौर : रक्षाबंधन के मौके पर मध्य प्रदेश के indore में रविवार को फेरी लगाकर चूड़ी बेच रहे एक व्यक्ति को पांच-छह लोगों के समूह ने कथित तौर पर नाम पूछकर पीट दिया। घटना का वीडियो वायरल होने पर मचे बवाल के बाद शामिल लोगों के खिलाफ सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने तथा अन्य संगीन आरोपों में एफआईआर दर्ज की गई है।

indore वाक़िये में दर्ज हो चूका है केस

पुलिस ने बताया कि यह घटना रविवार दोपहर की है, वायरल वीडियो में इंदौर के बाणगंगा इलाके में समूह में शामिल लोग चूड़ी बेचने वाले व्यक्ति को पीटते दिखाई दे रहे हैं, जबकि वह उनसे छोड़ देने का आग्रह कर रहा है। कथित तौर पर लोगों ने उससे 10,000 रुपये भी छीन लिए। हमलावरों को अभद्र भाषा और धार्मिक अपशब्दों का इस्तेमाल करते हुए सुना जा सकता है।

इस कड़ी में आरोपिओं की सफाई में मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि उस व्यक्ति पर हमला तब किया गया जब लोगों ने महसूस किया कि वह अपना कारोबार चलाने के लिए एक नकली हिंदू नाम का उपयोग कर रहा था। मिश्रा ने कहा कि जांच में यह पाया गया कि वह व्यक्ति हिंदू नाम से चूड़ियां बेच रहा था। बीजेपी नेता ने बताया कि उसके पास अलग-अलग नामों से दो आधार कार्ड थे, जिन्हें बरामद कर लिया गया है। वह सावन के महीने में बेटी-बहनों को चूड़ी पहना रहा था। इससे नाराज़ लोगों ने उसकी पिटाई कर दी।

जबकि इस मामले में पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले के रहने वाले चूड़ी विक्रेता तस्लीम अली ने रविवार देर रात सेंट्रल कोतवाली थाने में शिकायत दर्ज कराई कि गोविंद नगर में पांच-छह लोगों ने उसका नाम पूछा और जब उसने अपना नाम बताया, तो उन्होंने उसे पीटना शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें : इस project के लिए दस लाख सोलर पैनलों का उत्पादन कर तुर्की ने बनाया रिकॉर्ड

Related Articles