शहीद किसानों की संख्या बढ़ रही और भाजपा सरकार टस से मस नहीं हो रही: Akhilesh

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ( Akhilesh Yadav ) ने कहा कि कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमा पर डटे किसानों की मौतें विचलित कर देने वाली है।

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ( Akhilesh Yadav ) ने कहा कि कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली ( Delhi ) की सीमा पर डटे किसानों की मौतें विचलित कर देने वाली है। शहीद किसानों की संख्या बढ़ती जा रही है लेकिन असंवेदनशील भाजपा सरकार ( BJP Government ) टस से मस नहीं हो रही है। अखिलेश ( Akhilesh ) ने रविवार को जारी बयान में कहा कि किसान ( Farmer ) अपने भविष्य को बचाने के लिए अपनी जान दे रहा है लेकिन भाजपा ( BJP ) नेतृत्व अपने बेतुके तर्कों एवं झूठे तथ्यों से काले कृषि कानून थोपना चाहती है।

किसानों के मौत की जिम्मेदार भाजपा सरकार ( BJP Government ) ही है। घने कोहरे और ठण्ड ( COLD ) में किसान लगातार हक और इंसाफ की गुहार लगा रहे हैं, लेकिन सत्ताधारी हृदयहीन बने बैठे है। भाजपा जैसा सत्ता का इतना दम्भ एवं इतनी निष्ठुरता अब तक कभी देखी नहीं गई।

उन्होने कहा कि बेहतर होगा भाजपा सरकार चंद अमीर मित्रों के फायदे के लिए पूरे देश के किसान को न ठगे, कृषि कानूनों को वापस ले। हर जमीनी कार्यकर्ता, वह चाहे जिस पार्टी में हो, यही चाहता हैै। भारत का राजनीतिक नेतृत्व इतना बंजर कभी न था। भाजपा लगातार किसानों का तिरस्कार कर रही है। किसान ही इस सरकार को सड़क पर ले आएंगे।

ये भी पढ़ें : हिस्ट्रीशीटर (History-sheeter) को पकड़ने गयी पुलिस टीम पर हमला, हमलावर फरार

झूठ और धोखा भाजपा सरकार की आदत में हैं

अखिलेश ( Akhilesh ) ने कहा कि झूठ और धोखा भाजपा सरकार की आदत में शुमार हैं। किसानों को लागत से ड्योढ़ा मूल्य दिलाने, सन् 2022 तक आय दुगनी करने का वादा करने वाले इन्हें तो भूल गए, गन्ना किसानों को बकाया भी नहीं दे रहे हैं, न्यूनतम समर्थन मूल्य को अनिवार्य किए जाने की मांग पर भी चुप्पी मारे बैठे हैं।

उत्तर प्रदेश में तो योगी सरकार ने किसानों को घरो में कैद करने के अलावा पुलिस और प्रशासन के अफसरों को भेजकर डराने धमकाने का अलोकतांत्रिक काम भी किया है। साफ है कि सरकार किसान आंदोलन को लेकर गम्भीर नहीं है और वह हल चाहती ही नही है लेकिन किसान जागरूक है और वह भाजपा के बहकावे में आने वाला नहीं है।

ये भी पढ़ें : खाना खाते समय पति ( Husband ) का रखे ध्यान, नहीं तो एक गलती से चली जाएगी जान

पहले दिन से ही किसानों के साथ है समाजवादी पार्टी

उन्होने कहा कि समाजवादी पार्टी पहले दिन से ही किसानों के साथ है। उनके संघर्ष का साथ देने के लिए वह प्रतिबद्ध है क्योंकि पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह ने हमेशा किसान हितों की जो लड़ाई लड़ी थी समाजवादी उन्हीं के रास्ते पर चल रहें हैं। समाजवादी किसान यात्रा और समाजवादी किसान घेरा के माध्यम से उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने गांव-गांव चैपाल लगाकर किसानों के साथ संवाद किया है और उन्हें अपने समर्थन-सहयोग का भरोसा दिलाया है।

Related Articles

Back to top button