अमेरिकी शेयर बाजार में चीनी कंपनियों की राह होगी मुश्किल

वाशिंगटन: भारत के बाद अमेरिका ने भी चीन को बड़ा झटका दिया है। एक तरफ जहां चीन की ड्रोन निर्माता कंपनी पर प्रतिंबध लगा दिया है तो वहीं दूसरी तरफ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक ऐसे कानून को मंजूरी दी है। जिसके परिणामस्वरूप अमेरिकी शेयर बाजार में काम करने वाली चीन की कंपनियों पर रोक लगाई जा सकती है।

व्हाइट हाउस ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर यह जानकारी दी। विज्ञप्ति के मुताबिक 18 दिसंबर 2020 को राष्ट्रपति ने विदेशी कंपनियों की जवाबदेही तय करने वाले कानून एस945 पर हस्ताक्षर कर उसे मंजूरी प्रदान की है। जिसमें किसी विदेशी सरकार के स्वामित्व और उसके द्वारा नियंत्रित कंपनियों को सुरक्षा संबंधी कड़े नियमों का पालन करना होगा और साथ ही अमेरिका के सार्वजनिक कंपनी लेखा पर्यवेक्षक बोर्ड की ओर से लेखा जांच संबंधी तय मानकों के मद्देनजर स्वीकृति भी लेनी होगी।

अमेरिकी संसद के निचले सदन हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव ने इसी महीने इस कानून को मंजूरी दी है जबकि सीनेट ने मई में ही इसे पारित कर दिया था। इस कानून के मुताबिक अमेरिकी शेयर बाजार में काम करने वाली कंपनियों को यह बताना होगा कि उसका स्वामित्व किसके पास है और उसे कौन संचालित कर रहा है।

यह भी पढ़ें: चीन को एक और बड़ा झटका, ड्रोन निर्माता कंपनी पर लगा प्रतिबंध

Related Articles

Back to top button