अमित गुलिया गैंग के शार्प शूटर को पुलिस ने ऐसे किया गिरफ्तार

नई दिल्ली:दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने तिहाड़ जेल में बंद अमित गुलिया गैंग के गुर्गे मनोज उर्फ मोजी को गिरफ्तार किया है. बता दे की दिल्ली पुलिस कोविड-19 के चलते तिहाड़ जेल से बेल पर बाहर आए बदमाशों पर नजर रखे हुए थी. पुलिस को खबर मिली थी कि नजफगढ़, द्वारका इलाके के कई बड़े व्यापारियों को प्रोटेक्शन मनी के नाम पर एक्सटॉर्शन के लिए धमकियां मिल रही थी.जांच के दौरान पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर मनोज उर्फ मोजी नाम के बदमाश को गिरफ्तार कर लिया, जो कि हाल ही में तिहाड़ जेल से कोरोना वायरस के चलते बेल पर बाहर आया था. मनोज फरार चल रहे बदमाश बदमाश कपिल सांगवान और तिहाड़ जेल में बंद अमित गुलिया के संपर्क में था. मनोज उर्फ मोजी ने पूछताछ में बताया की वो कपिल सांगवान और अमित गुलिया के आदेश पर व्यापारियों को प्रोटेक्शन मनी के नाम पर धमका रहा था.

बिल्डर, ज्वैलर और व्यापारी रहते थे इस गैंग के निशाने पर, दुकान और घर पर गोलियां चला कर करते थे उगाही
दिल्ली पुलिस के मुताबिक इस गैंग के सदस्य पर जबरन उगाही के कई मुकदमे दर्ज हैं और उनके निशाने पर बाहरी दिल्ली के बड़े बिल्डर, ज्वैलर और व्यापारी रहते थे. मनोज उर्फ मोजी गैंग का शार्प शूटर है और ये इन व्यापारियों के घर और दुकान के बाहर गोलियां चलाकर इन्हें धमकाता था और फिर प्रोटेक्शन मनी के नाम पर वसूली करता था.

तिहाड़ जेल से चल रहा है गैंग, एक हफ्ते में तिहाड़ जेल से एक्सटॉर्शन कर रहे 2 गैंग का पुलिस ने किया है पर्दाफाश
राजधानी दिल्ली में हाल ही में क्राइम बेहद बढ़ गया है. पुलिस ने एक हफ्ते के अंदर दो गैंग का पर्दाफाश किया है, जिनके सरगना तिहाड़ जेल में बैठकर उगाही कर रहे थे. पुलिस के सामने अब सबसे बड़ा सवाल यह भी है कि आखिरकार कैसे जेल में मोबाइल पहुंच रहा है, जिसके जरिए जेल के अंदर से ये गैंग ऑपरेट कर रहे हैं. कोरोना महामारी में लोगों से नियमों का पालन कराने के साथ-साथ क्राइम को कंट्रोल करना, पुलिस के लिए कठिन हो गया है. ऐसे में तिहाड़ जेल की बड़ी खामियां पुलिस के लिए सर दर्द बन गई हैं.

Related Articles