17 साल बाद मुर्दा निकला जिंदा, पुलिस ने किया राजफाश

जो व्यक्ति दुनिया व पत्नी के लिए मुर्दा था, उसे पुलिस ने मामले की जांच करते हुए जिंदा खोज निकाला

सोचिए जो 17 साल पहले  दुनिया के लिए मर गया था अगर वो जिंदा मिले तो कैसा लगेगा. ऐसा ही एक मामला कानपुर से सामने आया है, जहां एक व्यक्ति जो 17 साल से दुनिया व पत्नी के लिए मुर्दा था, उसे पुलिस ने मामले की जांच करते हुए जिंदा खोज निकाला है. वही पुलिस ने  प्रयास से इस सच्चाई का पता लगाया और लापता व्यक्ति जिसको उसकी पत्नी व परिजन मुर्दा समझ रहे थे,उसको सजेती पुलिस ने खोजबीन के दौरान मथुरा से बरामद करके ले आई,वही मामले की जानकारी होने के दौरान पत्नी व परिवार में बेहद खुशी का माहौल है.

जानिए क्या है पूरा मामला

बताते चले कि थाना सजेती के लहुरीमऊ निवासी पप्पू अवस्थी 17 साल पहले संदिग्ध हालात में गायब हो गया था,वही काफी समय से लापता होने के दौरान पत्नी सुमन समेत अन्य ने उसे मृत समझ लिया था व दस्तावेजों में भी उसे मृत घोषित कर दिया गया था. कुछ समय पहले सुमन ने महिला आयोग में शिकायत कर आरोप लगाया कि मेरे पति की हत्या 17 साल पूर्व मेरे ससुर जगतनारायण, जेठ सुरेश व वीरेन्द्र ने कर दी है, यह लोग उससे सच्चाई छिपा रहे हैं इसके बाद थाना प्रभारी ने मामले की जांच शुरू की और पूछताछ के लिए युवक के पिता जगतनारायण को थाने बुलाया, जहां उनसे पूछताछ की गई, तो मामला परत दर परत खुलता चला गया.

लापता युवक के पिता ने पुलिस को बताया यह

जगतनारायण ने पुलिस को बताया कि करीब छह माह पहले एक नबंर से मिस्ड काल आई थी, वही जब पुलिस द्वारा उस नंबर को ट्रैक किया गया, तो वह नंबर मथुरा का निकला.इस पर सजेती थाना प्रभारी ने मथुरा पुलिस से संपर्क किया तो पता चला कि पप्पू अवस्थी अपना नाम पता छिपाकर वहां फैक्ट्री में नौकरी कर रहा है,पुलिस ने इस सूचना पर दबाव बनाया और उसे बरामद कर लिया है.

Related Articles