पुलिसकर्मी ने भारत के “चौथे स्तंभ” पर ड़ाला हाथ, कर दी ये घिनौनी हरकत

श्रावस्ती। एक तरफ उत्तर प्रदेश में योगी सरकार महिलाओं के सुरक्षा की बात करती है तो दूसरी तरफ यहां रक्षक ही भक्षक बनते नजर आ रहे हैं। इसलिए महिलाओ की सुरक्षा पर सवाल उठना लाजिमी है। ऐसा ही एक मामला यूपी के श्रावस्ती जिले से सामने आया है।

 

यूपी के श्रावस्ती में लोकतंत्र के “चौथे स्तम्भ” कहे जाने वाले मीडिया की एक महिला पत्रकार ने पुलिस पर ही शादी का झांसा देकर रेप करने का आरोप लगाया है। महिला पत्रकार ने मल्हीपुर थाने में तैनात सिपाही रंजीत कुमार यादव के विरुद्ध दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया है।

महिला ने बताया कि ‘कुछ महीने पहले उन दोनों का प्यार फेसबुक से शुरू होकर शादी के वायदे तक पहुँच गया था। उसने कहा कि पुलिसकर्मी ने शादी का झांसा देकर अपने पास बुलाया और श्रावस्ती के मल्हीपुर में किराये पर कमरा लेकर मुझे बतौर पत्नी के तौर पर रखने लगा। साथ ही कई महीनों तक शारीरिक और मानसिक रूप से शोषण करता रहा। शादी की बात करने पर मुझे प्रताड़ित करने लगा और रात दिन मरता और पीटता था जिससे मुझे गंभीर चोटें भी आई’

आपबीती बताने पर उसके आँखों से आंसू छलकने लगा जो अपने आप में खुद ही एक दर्द बयां कर रहे थे। महिला पत्रकार ने मीडिया से बात करते हुए अपने दिल का दर्द बयां करते हुए बताया कि मल्हीपुर थाने में तैनात आरक्षी रंजीत कुमार यादव ने उसे शादी का झांसा देकर कई महीनों तक उसके साथ दुष्कर्म किया और शादी के लिए कहने पर अब वह मना कर रहे हैं। महिला की तहरीर पर मल्हीपुर थाने में आरोपी पुलिसकर्मी के विरुद्ध दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

वहीं SP ने बताया कि महिला पत्रकार ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी थी, इस मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी पुलिसकर्मी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया है और मामले की जांच की जा रही है।

Related Articles