शुरू कर दी तैयारी, अब राजनीति में आएगा अजीत डोवाल का ये सबसे खास

0

गढ़वाल। उत्तराखंड के गढ़वाल में इन दिनों एक पोस्टर को लेकर काफी हल्ला मचा हुआ है। इस पोस्टर की पहचान ‘बेमिसाल गढ़वाल अभियान’ के तौर पर की गई है। कहा जा रहा है कि पिछले कुछ दिनों से ये पोस्टर गढ़वाल की गलियों में काफी नज़र आ रहा है। पोस्टर के साथ-साथ एक तस्वीर भी है। यह तस्वीर किसी और की नहीं बल्कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और सत्ता प्रतिष्ठान के बेहद करीबी अजित डोवाल के बेटे शौर्य डोवाल की है। पोस्टर के साथ साथ संपर्क करने के लिए कुछ नंबर भी दिए गए हैं। इन नंबर के जरिए आप इस अभियान से जुड़ सकते हैं।

इन नंबर से आप इस अभियान से जुड़ सकते हैं, दूसरे नंबर से शौर्य डोवाल और उनके द्वारा शुरु किए अभियान के बारे में जानकारी मिलती है। जानकारी देते हुए ऑपरेटर बताता है कि अगर आप गढ़वाल को बेहतर बनाना चाहते हैं तो इस अभियान से जुड़ सकते हैं। यह शौर्य डोवाल द्वारा शुरु की गई एक नई मुहिम है। गढ़वाली भाषा में मौजूद इन जानकारियों से बताया जाता है।

2019 से पहले चुनावी माहौल शुरु करने वाले शौर्य डोवाल का कहना है कि उत्तराखंड को बदलने के लिए बुलंद उत्तराखंड एक कोशिश है, और बेमिसाल गढ़वाल अभियान एक शख्स द्वारा चलाया जा रहा विशेष अभियान है। शौर्य का गांव घिड़ी पौढ़ी गढ़वाल इलाके में पड़ता है। पिछले दिसंबर में शौर्य उत्तराखंड बीजेपी के राज्य कार्यकारी समिति के सदस्य बने थे। जब उनसे पूछा गया कि उन्होंने इस अभियान को क्यों शुरू किया है तो उन्होंने कहा, “यदि इसका कुछ राजनीतिक पहलू निकाला जाता है, तो कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन अगर इसका राजनीतिक पहलू नहीं भी निकाला जाता है, फिर ये अभियान महत्वपूर्ण है।”

“मैं नहीं जानता हूं कि मैं चुनाव लडूंगा या नहीं, ये मेरे हाथ में नहीं है, लेकिन मैं ये समझता हूं कि किसी स्थान के समझ को बदलने की शुरुआत करने के लिए राजनीति एक अहम जरिया है। बुलंद उत्तराखंड और बेमिसाल गढ़वाल इसी नैरेटिव को बदलने की एक कोशिश है।”

loading...
शेयर करें