डॉक्टरों ने मरीज के पेट से निकाली ये दुर्लभ चीज, देखने वालों के उड़े होश

0

श्रीनगर। उत्तराखंड के राजकीय मेडिकल में बाइलॉब्ड गाल ब्लाडर यानी दो मुंह वाली पित्त की थैली का सफलतापूर्वक ऑपरेशन कर दिया गया। बता दें बाइलॉब्ड गाल ब्लाडर बड़ी ही दुर्लभ होती है। चार हजार लोगों में से किसी एक में ये पाई जाती है। यह पैदायशी एबनॉर्मलिटी है। लेप्रोस्कोपिक सर्जरी से इसे निकालना बहुत कठिन है।

ऐसा ऑफर फिर कहां… BSNL ने ख़ास ईद के मौके पर…

बाइलॉब्ड गाल ब्लाडर

खबरों के मुताबिक़ एक स्थानीय व्यक्ति को काफी दिनों से पेट में दर्द हो रहा था। अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट में उसके पित्त की थैली में पथरी निकली।

उसको पित्त की थैली निकालने की सलाह दी गई। मेडिकल कॉलेज श्रीनगर के सर्जन डॉ। श्वेताभ प्रधान ने लेप्रोस्कोपी (दूरबीन) से पित्त की थैली निकालने का निर्णय लिया, लेकिन जब आपरेशन करते हुए कैमरे को पेट में डाला गया, तो मरीज के पेट में दोमुंही पित्त की थैली दिखाई दी।

मूसलाधार बारिश से नदियों में उफान, तीन दिनों का अलर्ट जारी

अल्ट्रासाउंड परीक्षण में यह नहीं दिखा था। लगभग एक घंटे के ऑपरेशन के बाद पित्त की थैली निकाल ली गई।

डॉ। प्रधान ने बताया कि दोमुंही पित्त की थैली बहुत कम मरीजों में होती है। दो मुंह होने के कारण इसको लेप्रोस्कोपिक सर्जरी से निकालना मुश्किल होता है, लेकिन सर्जरी होने पर इसको सफलतापूर्वक निकाल लिया गया। उन्होंने बताया कि मरीज स्वस्थ है।

उत्तराखंड के राजकीय मेडिकल कॉलेज श्रीनगर के डॉक्टरों का दावा है कि मेडिकल साइंस के अनुसार यह पैदायशी एबनॉर्मलिटी (असामान्यता) है, जो 4000 में से एक इंसान में हो सकती है।

loading...
शेयर करें