जवान औरंगजेब की हत्या का खुल गया राज़, लड़की की वजह से गई जान?

नई दिल्ली। हाल ही में ईद के मौके पर एक भारतीय सेना में राइफलमैन की हुई हत्या ने सबको हिला कर रख दिया था। त्योहार के मौके पर घर आ रहे जवान को आतंकियों ने पुलवामा के कलामपोरा में अगवा कर उसकी हत्या कर दी थी। मामले अभी तक शांत नहीं हुआ था कि अब एक ऐसा खुलासा हुआ है जिसे सुनकर आप हैरान रह जाएंगे। इस वजह को औरंगजेब की हत्या की असली वजह बताई जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक इस हत्या के पीछे एक लड़की से दोस्ती और कुछ नियम-कानून के उल्लंघन करने की बात सामने आई है।

इस बात की जानकारी देते हुए अधिकारियों का कहना है कि अगर औरंगजेब ने सतर्कता बरती होती तो शायद उसकी जान बच जाती। 14 जून की घटनी को याद दिलाते हुए अधिकारियों ने कहा जब राइफलमैन ने अपने घर जाने के लिए प्राइवेट कार ली और ड्राइवर से शोपियां में उतारने को कहा तभी अचानक कुछ आतंकी ने उसकी गाड़ी को घेर लिया और असे बाहर की ओर खींच लिया। साथ ही अधिकारियों का कहना है कि औरंगजेब को घर जाने से पहले किसी लड़की से मिलना, लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था। ऐसा भी कहा जा रहा है कि अगर औरंगजेब उस लड़की से मिलने के लिए न रुकता तो आज शायद वह जिंदा होता।

बताया जा रहा औरंगजेब की लड़की से कुछ दिनों से बातचीत चल रही थी, जब यह बात आतंकियों को पता चली तो उन्होंने लड़की पर दबाव बनाकर राइफलमैन की सारी जानकारी ली। जब औरंगजेब लड़की से मिलने आया तो आतंकियों ने उसे पकड़ लिया। घाटी में सेना के जवानों को आतंकी उत्पीड़क के तौर पर दर्शाते हैं। एक अफसर ने कहा-हमारे जवानों के लिए शत्रुतापूर्ण भावना वाली आबादी के बीच सेवा करना आसान नहीं है लेकिन महिलाओं के साथ संपर्क पूरी तरह से गलत है।

इस घटना के बाद नियम कानूनों के तहत जवानों को स्थानीय लड़कियों से दोस्ती करने के लिए मना किया गया है। साथ उन्हें सख्त आदेश दिया गया है कि वह नियम कानून का पालन करें। किसी भी जवान प्राईवेट कार से जाने की अनुमति नहीं है, लेकिन औरंगजेब ने इस बात का उल्लंघन किया था, जिसकी वजह से उसे अंजाम भुगतना पड़ा।

Related Articles

Back to top button