नहीं थम रहा दुष्कर्म की घटनाओं का सिलसिला, बदायूं में एक और हैवानियत

सिविल लाइन क्षेत्र के एक गांव में जागरण में गई एक किशोरी के साथ उसके ही पड़ोसी युवक ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया।

बदायूं: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जहां एक तरफ महिलाओं के साथ हो रहे अत्याचार को रोकने के लिए बड़े बड़े दावे कर रही है। लेकिन इसकी हकीकत क्या है यह तो अपराधों की सामने आ रही खबरें ही बयां कर रही हैं। बदायूं जिले में महिला के साथ हुई हैवानियत का मामला अभी थमा नहीं था कि एक और दुष्कर्म का मामला सामने आया है। एक किशोरी के साथ पड़ोसी युवक ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया है। हालांकि पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन सवाल है कि आखिर कब तक महिलाएं प्रदेश में खुद को महफूज समझेंगी। कब महिलाओं को इन दरिंदों से छुटकारा मिल पाएगा। सवाल तो कई हैं लेकिन इनका जवाब कोई नहीं है।

बदायूं में एक और हैवानियत

उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में दुष्कर्म की घटनाओं का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। सिविल लाइन क्षेत्र के एक गांव में जागरण में गई एक किशोरी के साथ उसके ही पड़ोसी युवक ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। हालांकि पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। यह घटना 4 जनवरी के रात की बताई जा रही है।

परिजनों के मुताबिक पड़ोस में कथा थी जिसमें शामिल होने के लिए किशोरी गई थी। वहीं पर उसको पड़ोसी पिंटू नाम के एक युवक ने उसे बहला-फुसला कर अपने घर ले गया। जब लड़की की माता पिता को लड़की गायब मिली तो उन्होंने ढूढने की कोशिश की। लेकिन जब लड़की पड़ोस के घर रोते हुए निकली और अपनी आप बीती बताई तो घरवालों के होश उड़ गए।

4 जनवरी की रात हुई यह घटना परिजनों के जहन में बस गई थी। परिजन समझ ही नहीं पाए उन्हें क्या करना है। लोक लाज के डर से बात परिवारों में बीच में चलती रही। लेकिन काफी हिम्मत कर परिजनों ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कराया। जिसके बाद पुलिस ने तत्काल मुकदमा दर्ज कर किशोरी को मेडिकल के लिए भेज दिया और मुख्य आरोपी पिंटू को गिरफ्तार कर लिया है और आरोपी के खिलाफ पाक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

यह भी पढ़ें: पूर्व विधायक (Ex.MLA) सहित परिवार वालों पर दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज

Related Articles

Back to top button