सामने आया चौंकाने वाला रहस्य, धीरे-धीरे धरती से दूर जा रहा है चांद

नई दिल्ली। चांद न होता, तब क्या होता? बहुत कुछ होता. यहाँ तक कि यह प्रश्न पूछने के लिए हम शायद आज धरती पर होते ही नहीं। दिन कहीं छोटा होता और धरती पर अब भी केवल पेड़-पौधे और जानवर ही होते। हाल ही में वैज्ञानिकों द्वारा किए गए एक अध्ययन में चांद को लेकर एक चौंकाने वाला खुलासा किया गया है। रिसर्च के दौरान कहा गया है कि चांद पृथ्वी से दूर जा रहा है। चांद की इस हरकत को देखते हुए कहा जा रहा है कि यह आने वाले समय में घातक साबित हो सकता है। साथ ही पृथ्वी की इस गति का अध्ययन किया और इससे वह पृथ्वी व चंद्रमा के बीच की दूरी और दिन के घंटों का पता लगाया गया है।

अध्ययन के मुताबिक चांद धरती से दूरी बना रहा है, जिसकी वजह से हमारे ग्रह पर दिन लंबे होते जा रहे हैंं। इसमें पाया गया कि 1.4 अरब साल पहले चंद्रमा पृथ्वी के ज्यादा करीब था और उसने पृथ्वी के अपनी धूरी के चारों ओर घूमने के तरीके को बदला। जानकारी के मुताबिक चांद की पृथ्वी से उसकी औसत दूरी 3.84.467 किलोमीटर है।

पृथ्वी की गति धीमी पड़ रही है, और चंद्रमा की बढ़ रही है। अक्षगति बढ़ने से वह पृथ्वी से दूर जा रहा है। प्रतिवर्ष करीब 3 सेंटीमीटर की दर से दूर जा रहा है। एक समय ऐसा भी आयेगा, जब चंद्रमा आज की अपेक्षा डेढ़ गुना दूर चला जायेगा। और तब पृथ्वी पर के केवल एक हिस्से के लोग ही चंद्रमा को देख पायेंगे, दूसरे हिस्से के लोग नहीं। ऐसा भी कहा जाता है कि अगर चांद गायब हो गया तो दिन मात्र 6 घंटे का ही रह जाएगा।

Related Articles