बिना दुकानदार के चलती है दुकान, लोग सामान के बदले खुद से पैसे रखकर चले जाते हैं

नई दिल्ली:मिजोरम राज्य में कुछ ऐसा देखने को मिला जो हर कोई हैरान हो जा रहा है.मिजोरम की राजधानी आइजोल से कुछ ही घंटे दूर सेलिंग शहर है जहां की स्थानीय समुदाय एक अनोखी और अद्भुत परंपरा का पालन करता है. जी हां आज के समय यह बात थोड़ी अटपटी लग सकती है लेकिन मिजोरम में ‘नगहा लो डावर’ संस्कृति आज भी काफी प्रचलित है. इस परंपरा के अनुसार सेलिंग शहर में स्थानीय दुकान तो खोली जाती है लेकिन दुकानदार नहीं बैठे होते. जी हां यह भारत का ऐसा स्थान है जहां दुकानदार की अनुपस्थिति में सभी दुकाने खोली जाती है और सबसे दिलचस्प बात यह है कि दुकान से सामान लेने के बाद वहां के लोग एक बॉक्स के अंदर पैसा रखकर चले जाते हैं.आपको बता दें कि मिजोरम के इस शहर में कई ऐसी ही एक दुकानें है… एक ऐसी ही दुकान की फोटो ‘मेरा होम इंडिया’ नाम के एक एनजीओ ने अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया. साथ ही उन्होंने कैप्शन में लिखा…दुकानदार अपनी दुकानें खोलते हैं और अपने स्टोर में पैसा के लिए खास बॉक्स रखते हैं, लेकिन यह दुकानें विश्वास के सिद्धांत पर चलती है, क्योंकि इस दुकान की खासियत यह है कि रोजाना दुकानदार की अनुपस्थिती में यह दुकानें खुलती हैं.. और दुकान में वह के लोगों की जरूरत के हिसाब से सामान भी रखा होता है. लेकिन बस फर्क इतना ही है कि लोग आते हैं और अपने हिसाब से सामान लेकर और पैसे को बॉक्स में रखकर चले जाते हैं. दूसरे राज्यों की तरह नहीं दुकान पर दुकानदार बैठा है और उससे आप मोल- भाव कर रहे हैं.

आपको बता दें कि यह ट्वीट काफी तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा. लोग इसे काफी पसंद कर रहे हैं, और इसी का नतीजा है कि इस पर अब तक 100 से ज्यादा रिट्वीट आ चुके हैं. सिर्फ इतना ही नहीं लोग इस पर मजेदार कमेंट भी करते हुए नजर आ रहे हैं…. एक यूजर ने लिखा बहुत बढ़िया, वहीं एक यूजर ने लिखा इसलिए भारत को विभिन्नता में एकता का देश कहा जाता है.

Related Articles