राज्य सरकार ने क्रिसमस पर दिया बड़ा तौफा, कम होंगे पेट्रोल-डीजल के दाम

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में कैबिनेट की मीटिंग में डीजल और पेट्रोल पर लगा सेस अब खत्म करने का फैसला लिया है। एमपी के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया है कि कैबिनेट में इसकी चर्चा की

भोपाल: मध्य प्रदेश सरकार ने डीजल और पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को लेकर मंगलवार को बड़ा फैसला लिया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में कैबिनेट की मीटिंग में डीजल और पेट्रोल पर लगा सेस अब खत्म करने का फैसला लिया है। एमपी के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया है कि कैबिनेट में इसकी चर्चा की गई और इसके बाद सेस दर खत्म करने का फैसला लिया है।

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया है कि डीजल और पेट्रोल पर उपकर यानी जो सेस लगता था अब वो खत्म कर दिया गया है। आज कैबिनेट की मीटिंग में पेट्रोल-डीजल पर उपकर के ऊपर लगने वाले उपकर पर चर्चा हुई है। एमपी में अब पेट्रोल और डीजल के कीमतों में कमी आएगी। राज्य में पेट्रोल के दामों में 4.50 रुपए और डीजल के दामों में 3 रुपए की कमी आ सकती है। फ़िलहाल इस फैसले से आम जनता का कोई फायदा नहीं ही।

ये भी पढ़ें : भारत में प्रति दस लाख आबादी में कोरोना के मात्र 219 मामले

राज्य में अब डीजल और पेट्रोल की कीमतों पर लगाया गया सेस आज से खत्म होगा ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है। इसके बाद ये दोनों पदार्थ कम कीमत पर मिलेंगे। वैसे तो सरकार की ओर से इसका ऐलान हो चुका है लेकिन इस संबंध में कोई आधिकारिक आदेश अब तक जारी नहीं हुआ है। गौरतलब है कि भोपाल में 22 दिसंबर, मंगलवार को पेट्रोल की कीमत 91.50 रुपये प्रति लीटर थी। वहीं, भोपाल में डीजल 81 रुपये 68 पैसे प्रति लीटर की दर से बिक रहा है। बता दें कि डीजल और पेट्रोल की कीमतों पर राज्य सरकार ने सेस लगा दिया था। सेस लगाए जाने के बाद पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा हो गया था।

Related Articles

Back to top button