गरीब छात्रों के पालनहार बने ये शिक्षक, नि:शुल्‍क में देते हैं शिक्षा

0

कोटद्वार। पढ़कर समाज में एक अलग राह तय करके नई पहचान बनाने वाले छात्रों को पंख लगा रहे हैं रिटायर शिक्षक जसबीर सिंह रावत। ये गरीब छात्रों को निशुल्‍क शिक्षा देते हैं। साथ ही बोर्ड एग्‍जाम आने पर तैयारी भी कराते हैं। यह कार्य इन्‍होंने पिछले तीन सालों से जारी कर रखा है, जो अब अन्‍य उन शिक्षको के लिए मिसाल बन रहे है, जो शिक्षा को व्‍यवसाय बना लिया है।

सूत्रों के मुताबिक बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ अभियान को साकार करने के लिए जसबीर रावत छात्राओं को मुफ्त में ट्यूशन देते हैं। यह कार्य ये बोर्ड परीक्षा आने के तीन महीने पहले शुरु करते हैं। जिससे छात्राओं को एग्‍जाम में काफी सहायता मिलती है। इनके यहां सबसे ज्‍यादा उन्‍हें फायदा मिल रहा है जो गरीब घर की छात्राएं होती है।

यह भी पढ़े- राज्‍य में लोगों को बड़ा झटका, तीन गुना बढ़ सकती हैं बिजली दरें

वहीं ट्यूशन ले रही लड़कियों का कहना है कि जो सवाल वो स्कूल में समझ नहीं पाते हैं, इस कोचिंग के माध्यम से अच्छी तरह से समझ जाते हैं। इस मामले पर गरीब छात्रों को कोचिंग दे अध्‍यापक का कहना है कि यहां पर बीपीएल और आय प्रमाण पत्र के आधार पर छात्राओं का चयन कर निर्धन परिवार की बेटीओ को निशुल्क कोचिंग दी जाती है।

loading...
शेयर करें