गैंगरेप के बाद पीड़िता ने खाया जहर, हालत गंभीर, आरोपी फरार

गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शहर में गैंगरेप के बाद लोकलाज के डर से पीड़ित किशोरी ने जहर खाकर जान देने की कोशिश की है. गंभीर हालत में उसे बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती कराया गया. परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. सभी आरोपी फरार हैं.गोरखपुर के गगहा इलाके की रहने वाली किशोरी 1 जुलाई को गजपुर बाजार गई थी. वहां पर उसे पड़ोस का युवक मिल गया. उसने झांसा देकर किशोरी को अगवा कर लिया. इसके बाद अनजान जगह पर ले जाकर बंधक बना लिया. वहां उसके और दो साथी आये और तीनों ने किशोरी के साथ गैंगरेप किया.

देर शाम तक किशोरी के घर न लौटने पर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की इसी बीच देर रात भर होती हुई अपने घर पहुंची उसने परिजनों को आपबीती सुनाई उसने बताया कि एक आरोपी ने झांसा देकर सुनसान जगह पर उसे बंधक बना लिया और अपने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर उसके साथ गैंगरेप किया किसी तरह उनके चंगुल से बचकर भाग निकली.सुबह होते होते घटना की जानकारी पूरे गांव को हो गई. इससे आहत किशोरी ने जहर खा लिया. परिजनों ने उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया.गुरुवार को जब परिजनों ने मुदस्सिर अली, अख्तर और सफायत अली के खिलाफ नामजद तहरीर दी तब मामला प्रकाश में आया. पुलिस ने तीनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 363, 366, 376 और 3/4 पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है. तीनों आरोपियों पर केस दर्ज करने के बाद पुलिस उनकी तलाश कर रही है.

इस संबंध में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉक्टर सुनील गुप्ता का कहना है कि घटना प्रकाश में आई है. तीनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लेगी.

Related Articles