“किसानों के साथ पूरा देश खड़ा है, मोदी, शाह की निकल जाएगी गलतफहमी”

जयपुर : राजस्थान (Rajasthan) के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने केन्द्र सरकार (Central government) को संवेदनहीन सरकार बताते हुए कहा है कि किसानों के साथ देश के लाखों लोग हैं और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) एवं केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) की गलतफहमी निकल जायेगी।

उन्होंने कहा कि उन्हें खुशी हैं प्रदेश कांग्रेस ने यह धरना आयोजित किया है। 39 दिन हो गये और कड़ाके की ठंड के बीच देश के किसान आंदोलन कर रहे हैं। लेकिन केन्द्र सरकार की संवेदनहीन की पराकाष्ठा हैं कि किसान थक जायेंगे और मुद्दा समाप्त हो जायेगा। उन्होंने किसानों को समझदार बताते हुए कहा कि वे शांतिपूर्वक एवं भाईचारे के साथ आंदोलन कर रहे हैं और किसानों के साथ देश के साढ़े छह लाख गांवों में बैठे लोगों की भावना हैं। उन्होंने कहा कि वक्त आने पर कि प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) एवं गृहमंत्री शाह की गलतफहमी निकल जायेगी और उन्हें लेने के देने पड़ जायेंगे।

फासीवादी सरकार को लोकतंत्र में यकीन नहीं

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को पूरे किसानों की किस्मत का फैसला करने का अधिकार नहीं हैं। उन्होंने केन्द्र सरकार को फासीवादी सरकार बताते हुए कहा कि यह सरकार देश को बर्बाद करना चाहती हैं। उन्होंने पीएम मोदी (PM Modi) पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्हें घमंड हैं और वह लोगों से ताली और थाली बजवाते हैं। वह देश का बैंड बजा देंगे। उन्होंने कहा कि हमें देश को एक रखना हैं। उन्होंने कहा कि इन लोगों को लोकतंत्र में यकीन नहीं हैं और तानाशाह की प्रवृत्ति रखते हैं। जनता को ताली एवं थाली बजवाकर हिन्दु राष्ट्र की बात करते हैं।

इसे भी पढ़े: DMK-Congress गठबंधन जीतेगा तमिलनाडु विधानसभा चुनाव: पी चिदंबरम

सीएम गहलोत (CM Gehlot) ने कहा कि बीजेपी देश को हिन्दु और मुसलमान में बांटने का काम कर रही हैं। उसकी नीयत ठीक नहीं हैं। उन्होंने कहा कि देश को आजाद कराने से लेकर अब तक कांग्रेस ने अहम भूमिका निभाई हैं और कहा जा रहा है कि पिछले 70 साल में कांग्रेस ने क्या किया। उन्होंने कहा कि अंग्रेजों की मुखबरी करने वाले लोग हमें पाठ पढा रहे हैं।

गहलोत बोले जरुरत पड़ी तो बॉर्डर पर भी जायेंगे

उन्होंने कहा कि इस बार इन लोगों ने किसानों से पंगा लिया हैं। किसानों को कोई भड़का नहीं रहा हैं और वे समझदार है। हालात गंभीर हैं, इसलिए कांग्रेस किसानों को संदेश देना चाहती हैं कि देश, प्रदेश एवं कांग्रेस का प्रत्येक कार्यकर्ता उनके संघर्ष के साथ खड़ा हैं। उन्होंने कहा कि जरुरत पड़ी तो किसान आंदोलन के समर्थन में वे बोर्डर पर भी आ जायेंगे।

इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasara) ने केन्द्र सरकार पर अपने उद्योगपति मित्रों को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी किसानों के साथ कांग्रेस के होने पर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार ने भूमि अधिगृहण संशोधन (Land acquisition amendment) बिल को वापस लेना पड़ा था और अब नये कृषि कानूनों को भी वापस लेना पड़ेगा। जब तक ये कानून वापस नहीं लिये जाते तब तक कांग्रेस पार्टी किसानों के साथ खड़ी रहेगी।

इस मौके पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot), परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास एवं राजस्व मंत्री हरीश चौधरी आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

Related Articles

Back to top button