शहीद परिवारों के साथ खड़ा है पूरा देश, ये इतिहास बदलने का समयः जीडी बख्शी

0

नए दौर की करवटें आभास दे रही हैं कि भारत हमारी एकता से सुपर पॉवर बनेगा। ये देश का इतिहास बदलने का समय है न कि इसे जातीय आधार पर विघटित करने का।

शहीद परिवार स्वयं को अकेला न समझें, पूरा देश इनके साथ खड़ा है। यह विचार संस्कार भारती (पुरातन) द्वारा बीएसए कॉलेज प्रांगण में शहीदों के परिवारों के अभिनंदन समारोह में मुख्य अतिथि मेजर जनरल (रिटायर्ड) जीडी बख्शी ने व्यक्त किए।

विशिष्ट अतिथि कर्नल (रिटायर्ड) विक्रम सिंह ने 1965 एवं 1971 की लड़ाइयों का जिक्र करते हुए फील्ड मार्शल रहे जनरल मानिक शॉ के नेतृत्व में 93 हजार पाक सैनिकों के समर्पण और बांग्लादेश की संरचना से रूबरू कराते हुए हवलदार शहीद अब्दुल हमीद की जाबांजी के संस्मरण साझा किए।

पद्मश्री दादा योगेंद्र ने भारत की खोज हेतु वास्कोडिगामा और कोलम्बस के योगदान से जुड़े संस्मरणों को साझा कर श्रोताओं का ज्ञानवर्धन किया। प्रांतीय महामंत्री शशांक तिवारी ने संस्कार भारती का परिचयात्मक विश्लेषण प्रस्तुत किया।

शेयर करें