महिला ने कहा, मैं Lesbian हूं मुझे तलाक चाहिए, मर्द के साथ नहीं रह सकती

महिला का कहना है कि उसकी शादी जबरन कराइ गई है जबकि वह अपनी शादी के खिलाफ थी इसकी वजह उसने समलैंगिक पहचान बताई है। 

नई दिल्ली: आपने जबरन शादी के कई मामले देखे होंगे लेकिन एक शादी का ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर आप हैरान हो जाएंगे। दरअसल एक महिला की शादी उसके फैसले के खिलाफ कर दी गई। महिला का कहना है कि उसकी शादी जबरन कराइ गई है जबकि वह अपनी शादी के खिलाफ थी इसकी वजह उसने समलैंगिक पहचान बताई है।

आपको बतादें कि दिल्ली उच्च न्यायालय ( Delhi high court ) ने बुधवार इस मामले में दिल्ली पुलिस को निर्देश देते हुए कहा, खुद को समलैंगिक बताने वाली महिला को बेहतर सुरक्षा प्रदान की जाए। बतादे कि महिला को वैवाहिक जीवन में रहने को बाध्य किया गया और यौन प्रवृत्ति से मुक्त कराने की धमकी दी गई। इस पर न्यायमूर्ति मुक्ता गुप्ता ने कहा, कि अगर महिला चाहती है कि वह किसी दूसरे स्थान पर रहे तो उसे पूरी आजादी है। उन्होंने पुलिस से महिला को नई जगह पर सुरक्षा प्रदान करने के लिए सभी जरूरी कदम उठाने को कहा है।

समलैंगिकता मामले से जुड़ी 10 महत्वपूर्ण बातें

पेश की गई याचिका में कहा गया है कि महिला की शादी अक्टूबर 2019 में एक व्यक्ति से जबरदस्ती कराई गयी थी। जबकि उसकी समलैंगिकता के बारे में उसके माँ बाप को पहले से पता था। शादी के बाद महिला ने कई बार अपने वैवाहिक रिश्ते को तोड़ने की कोशिश भी की थी। महिला का कहना है कि उसने अपनी शादी के तुरंत बाद अपनी समलैंगिक पहचान के बारे में पति को बता दिया था। महिला की उम्र 23 साल है।

यह भी पढ़े: Amitabh Bachchan के इस फिल्म का टीजर रिलीज, Dialogue सुन रह जाएंगे दंग

Related Articles