…तो इस वजह से महिला को सड़क किनारे देना पड़ा बच्चे को जन्म

0

भुवनेश्वर| ओडिशा के रायगढ़ जिले में रविवार को एंबुलेंस उपलब्ध नहीं होने के कारण एक गर्भवती महिला को सड़क किनारे बच्चे को जन्म देने के लिए मजबूर होना पड़ा। महिला (गोलापी हिकाका) को प्रसव पीड़ा होती देख परिवार के सदस्य ने 102 एंबुलेंस पर फोन किया, जो जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई) के तहत उपलब्ध रहती है।

परिवार के सदस्य ने कहा कि फोन करने के घंटों बाद भी एंबुलेंस नहीं आई और वह इंतजार करते रहे।

कोई दूसरा विकल्प न होने के कारण गोलापी चलकर कल्याणसिंहपुर समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंची। लेकिन उन्होंने बीच रास्ते में ही बच्चे को जन्म दे दिया।

रायगढ़ के मुख्य जिला चिकित्सा अधिकारी एस.पी. पाद्दी ने कहा कि जब तक एंबुलेंस उस स्थल पर पहुंची तब तक महिला बच्चे को जन्म दे चुकी थी। उस वक्त महिला के साथ एक आशा कार्यकर्ता मौके पर मौजूद थी।

उन्होंने कहा कि महिला और बच्चे की हालत स्थिर है। हम उनकी देखभाल कर रहे हैं। नियमों में के तहत उन्हें अस्पताल में 48 घंटे तक रखा जाएगा।

loading...
शेयर करें