नहीं रहा दुनिया का सबसे छोटा शख्‍स, इस बिमारी के वजह से गई जान

0

काठमांडू। दुनिया के सबसे छोटे शख्स का रिकॉर्ड बनाने वाले नेपाल के खगेंद्र थापा मागर का शुक्रवार को निधन हो गया। एक समाचार एजेंसी के अनुसार, खगेंद्र थापा मागर के भाई महेश थापा मागर ने जानकारी दी कि उन्हें निमोनिया हो गया था, जिसके चलते वह कुछ दिनों से अस्पताल में थे। उन्होंने बताया कि इस दौरान निमोनिया के चलते उनके दिल पर भी असर पड़ा।

पोखरा के पास एक अस्पताल में भर्ती थापा अपने माता-पिता के साथ थे। महज 67.8 सेंटीमीटर लंबे खगेंद्र दुनिया में सबसे छोटे इंसान होने के कारण गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड से सम्मानित थे।

साल 2010 में थापा जब 18 साल के हुए तब उन्हें गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड ने उन्हें सबसे छोटा आदमी घोषित किया था। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड के अनुसार थापा के पिता बताते हैं कि जब वह पैदा हुए थे तो वह हाथ की हथेली में भी समा नहीं पाते थे, लेकिन फिर भी मुझे उसके पिता होने पर गर्व महसूस होता है। उन्होंने सिर्फ अपने लिए नाम ही नहीं कमाया है बल्कि पूरे देश का नाम रोशन किया है।

हालांकि साल 2012 में गिनीज बुक ऑफ द वर्ल्ड रिकॉर्ड ने दुनिया के सबसे नाटे जीवित व्यक्ति का खिताब नेपाल के चांद्र बहादुर दांगी को दिया था। 72 वर्ष के दांगी की लम्बाई केवल 56.4 सेंटीमीटर और वजन 12 किलोग्राम थी लेकिन साल 2015 में दांगी के देहांत के बाद यह खिताब दोबारा थापा के पास आ गया था।

loading...
शेयर करें