भारत बंद में चाहिए किसानों एवं मंडी आढ़तियों का सक्रिय सहयोग: रामपाल जाट

जाट ने बताया कि आठ दिसंबर को भारत बंद एवं आन्दोलन की रणनीति को लेकर देशभर के किसान संगठनों की हुई बैठक में वह राजस्थान से सम्मिलित हुए।

जयपुर: किसान केंन्द्र सरकार के कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर मंगलवार को आयोजित भारत बंद को सफल बनाने के लिए जुटेंगे। किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामपाल जाट ने कुण्डली बॉर्डर पर विभिन्न किसान संगठनों की बैठक में भाग लेने के बाद आज यह बात कही। जाट ने बताया कि आठ दिसंबर को भारत बंद एवं आन्दोलन की रणनीति को लेकर देशभर के किसान संगठनों की हुई बैठक में वह राजस्थान से सम्मिलित हुए।

उन्होंने बताया कि इस मौके सभी संगठनों ने इस आंदोलन को देश व्यापी एवं प्रभावी बनानें पर विचार विमर्श किया गया तथा सम्पूर्ण आन्दोलन को शांति एवं अहिंसा के आधार पर चलाने के लिए सभी ने सहमति दी।

जाट ने देश के किसानों एवं व्यापारी, बस, ट्रक यूनियनों, मंडियों के आढ़तियों और अन्य संगठनों से भारत बंद में सक्रिय सहयोग का आग्रह किया है।

उन्होंने बताया कि भारत बंद प्रातः से लेकर अपराह्न तीन बजे तक रहेगा। जिसे किसान सफल बनाने के लिए जुटेंगे। उन्होंने बताया कि बंद के समर्थन में राजस्थान खाद्य व्यापार संघ द्वारा प्रदेश की 247 मंडियों को बंद करने का निर्णय भी लिया जा चुका है।

यह भी पढ़े: ‘केवल भाजपा ही दिखा सकती है जम्मू-कश्मीर को विकास और सुशासन का रास्ता’

Related Articles

Back to top button