आजीविका पर छाया था संकट, सुप्रीम कोर्ट ने किया फैसला

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने उत्तर प्रदेश में डीजे बजाने पर लगी रोक को अब हटा दिया है। यानी अब प्रदेश में डीजे पर रोक नहीं लग सकती है।

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने उत्तर प्रदेश में डीजे बजाने पर लगी रोक को अब हटा दिया है। यानी अब प्रदेश में डीजे पर रोक नहीं लग सकती है। इससे पहले हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि डीजे से ध्वनि प्रदूषण होता है और यह अप्रिय व खिन्न करने वाला होता है।

शीर्ष अदालत ने साल 2019 अक्तूबर में हाईकोर्ट के निर्देशों के क्रियान्वयन को स्थगित कर दिया था। लेकिन सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने हाईकोर्ट के आदेश को पलट दिया है। सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि उच्च न्यायालय ने डीजे ऑपरेटरों को सुने बिना ही प्रतिबंध लगा दिया था और एक असंबंधित याचिका में आदेश पारित किया।

डीजे का काम करने वाले लोगों की पैरवी करने वाले वकील दुष्यंत पाराशर का कहना है कि डीजे ऑपरेटर विवाह समारोह, जन्मदिन, पार्टी और खुशी के अन्य मौकों पर अपनी सेवाएं देकर अपना जीवन जीती है। हाईकोर्ट के आदेश से उनकी आजीविका पर संकट पैदा हो गया है। याचिका में कहा गया था कि यह उनके मौलिक अधिकारों का उल्लंघन है।

यह भी पढ़ें: World Youth Sakills Day 2021: पीएम मोदी, CM योगी सहित दिग्गजों ने दी शुभकामनाएं, जानिए इस दिन का महत्व

http://(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles