वृन्दावन में होने वाले संत समागम में कोई असुविधा नहीं होगी: मुख्य सचिव

उत्तर प्रदेश में मथुरा के वृन्दावन में आगामी 16 फररवरी से 28 मार्च तक होने वाले संत समागम में सभी तरह की सुविधा उपलब्ध कराने का निर्देश उत्तर प्रदेश सरकार ने दिया है।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश ( UP ) में मथुरा के वृन्दावन में आगामी 16 फरवरी से 28 मार्च तक होने वाले संत समागम में सभी तरह की सुविधा उपलब्ध कराने का निर्देश उत्तर प्रदेश सरकार ने दिया है।

संत समागम की तैयारी को लेकर मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में एक बैठक हुई। उन्होंने कहा कि संत समागम में आने वाले श्रद्धालुओं को किसी भी प्रकार असुविधा नहीं होनी चाहिये। श्रद्धालुओं तथा आम जन को आवागमन में किसी प्रकार की असुविधा न हो, इसके लिये बेहतर ट्रैफिक प्लान तैयार किया जाये। समागम के दौरान स्वच्छता एवं सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाये।

उन्होंने कहा कि समागम के लिये जिन स्वीकृत कार्यों की निविदा की कार्यवाही अवशेष है, उन्हें प्राथमिकता पर पूर्ण कर कार्य प्रारम्भ कराया जाये। आयोजन में कोरोना ( Covid-19 ) प्रोटोकाल एवं इस सम्बन्ध में निर्गत एडवाइजरी एवं निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाये। प्रत्येक हरिद्वार कुम्भ से पूर्व वृन्दावन में वैष्णव सन्तों की एक बैठक परम्परागत रूप से होती है, जिसे वृन्दावन कुम्भ बैठक कहा जाता है।

आयोजन के लिये 56 हेक्टेयर भूमि चिन्हित

यह आयोजन वृन्दावन परिक्रमा मार्ग तथा यमुना नदी के मध्य भू-भाग पर होता है। इस वर्ष यह आयोजन 16 फरवरी, से 28 मार्च, तक किया जाना प्रस्तावित है। आयोजन के लिये 56 हेक्टेयर भूमि चिन्हित की गयी है। समागम के दौरान नगर निगम द्वारा साफ-सफाई के लिये 750 सफाई कर्मचारी 03 पालियों में तैनात किये जाने हैं ।

पर्यटन विभाग द्वारा श्रीकृष्ण की लीलाओं पर आधारित थीम पर 08 प्रवेश द्वारों का निर्माण किया जायेगा, जिसके लिये निविदा की कार्यवाही जारी है। कृष्ण एवं ब्रज संस्कृति तथा हरिद्वार कुम्भ पर आधारित प्रदर्शनी का आयोजन तथा कुम्भ गाथा प्रदर्शनी-उज्जैन, नासिक, प्रयागराज व हरिद्वार में आयोजित होने वाले कुम्भ मेलों से सम्बन्धित ऐतिहासिक अभिलेखों की प्रदर्शनी व पुस्तक का प्रकाशन किया जायेगा।

13 रासलीला दलों व स्थानीय कलाकारों द्वारा रास लीला की प्रस्तुतियां एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा।

यह भी पढ़े: अमिताभ के साथ फिल्म बनायेंगे सूरज बड़जात्या

Related Articles