बसपा के ये 5 MLA सपा में शामिल होने का दिए संकेत, अखिलेश य़ादव से की मुलाकात

बहुजन समाज पार्टी से हाल के महीनों में निलंबित पांच विधायक सपा में शामिल होने का मन बना रहें हैं।

नई दिल्ली: बहुजन समाज पार्टी से हाल के महीनों में निलंबित पांच विधायक सपा में शामिल होने का मन बना रहें हैं। इसी सिलसिले में इन पांचों विधायकों ने आज सपा के प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की और सपा में शामिल होने के संकेत दिए। वर्तमान में 403 सदस्यीय राज्य विधानसभा में बसपा के 18 विधायक हैं।

जौनपुर के मुंगरा बादशाहपुर से विधायक सुषमा पटेल ने कहा, ‘सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ 15-20 मिनट तक चली बैठक में आगामी विधानसभा चुनावों ( UP Assembly Election 2022 ) पर चर्चा हुई और मुलाकात अच्छी रही.’ उनके अगले कदम के बारे में पूछे जाने पर पटेल ने कहा, “व्यक्तिगत रूप से, मैंने समाजवादी पार्टी में शामिल होने का मन बना लिया है।”

उनसे जब पूछा गया कि बसपा के निलंबित विधायकों ने अखिलेश यादव से मिलने का फैसला क्यों किया तो पटेल ने कहा, “हमें अक्टूबर 2020 में राज्यसभा चुनाव ( Rajyasabha Election ) के दौरान निलंबित कर दिया गया था और हमें स्पष्ट रूप से बसपा के झंडे और बैनर का उपयोग नहीं करने और किसी भी कार्यक्रम, पार्टी की बैठक में शामिल नहीं होने के लिए कहा गया था।

इसलिये निलंबित कर दिया गया

राज्यसभा चुनाव के समय, बसपा ने कोई व्हिप जारी नहीं किया था, न ही हम क्रॉस वोटिंग में शामिल थे। हमें बिना किसी आधार के निलंबित कर दिया गया था। हमें इसलिये निलंबित कर दिया गया था, क्योंकि हम अखिलेश यादव से मिलने गए थे।’ उन्होंने कहा, “अब, हमें विकल्प तलाशना है. इसलिए हम अखिलेश यादव से मिलने गये थे। अब हमारा बसपा से कोई लेना-देना नहीं है।

पटेल के अलावा सपा प्रमुख से मिलने वाले अन्य विधायकों में में असलम राएनी, मुस्तफा सिद्दीकी, हाकिमलाल बिंद और हरगोविंद भार्गव शमिल हैं। गौरतलब है कि अक्टूबर 2020 में, बसपा के सात विधायकों को पार्टी अध्यक्ष मायावती ने निलंबित कर दिया था। उन पर राज्यसभा चुनाव में पार्टी के आधिकारिक उम्मीदवार रामजी गौतम के नामांकन का विरोध करने का आरोप लगा था।

यह भी पढ़ें: पेट्रोल-डीजल के बाद सब्जियों के दामों में लगी आग, तीन गुना तक बढ़े किमत

Related Articles