जरूरी नहीं शरीर में दिखाई दें ये 5 लक्षण तो आपको हो गया है कोरोना, जानें किस गलतफहमी का शिकार हैं आप

देश-दुनिया में दहशत और लोगों के दिल में डर का माहौल फैला चुके कोरोनोवायरस यानी की कोविड 19 के बारे में गलत सूचनाओं और फर्जी खबरों में बहुत वृद्धि हुई है। चूंकि ये मुद्दा और डेटा सभी वास्तविक समय के हैं, इसलिए अनिश्चितता और अज्ञानता होने की संभावना अधिक है। कुछ बातें भले ही शुरू में सही हो सकती हैं लेकिन इन्हें साल मान लिया जाए ऐसा अभी तो फिलहाल नहीं हो सकता है हालांकि भविष्य में ऐसे घटनाक्रम हो सकते हैं जो इन कथन को जरूर सिद्ध कर सकते हैं। इस वायरस के गंभीर प्रभाव को देखते हुए लोगों के मन में अजीब सी दहशत भी है, जो हमारे दिमाग में अपना रास्ता बना रही है। आलम ये है कि अगर किसी व्यक्ति को अपने शरीर या इसके कार्य करने में थोड़ी सी भी दिक्कत महसूस हो रही है, तो उसके मन में तत्काल विचार आता है कि कहीं उसे कोरोना तो नहीं है। इस लेख में हम आपको ऐसे ही कुछ लक्षणों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें अनुभव करने करने का मतलब ये नहीं है कि आपको कोरोनोवायरस हो गया है। ज्यादा जानकारी के लिए पढ़े पूरा लेख।

 

हल्का सिरदर्द

अगर किसी व्यक्ति को हल्का सिरदर्द हो रहा है तो संभावना हो सकती है कि आप शायद अपने कंप्यूटर पर बहुत लंबे समय से काम कर रहे हैं या फिर आप घंटों से अपना मोबाइल चला रहे हैं। इसके अलावा बहुत कम नींद आना या फिर जरूरत से ज्यादा काम करने के कारण थकान से भी आपको हल्का सिरदर्द हो सकता है। हालांकि सिरदर्द अन्य लक्षणों में से एक हो सकता है जो बुखार, खांसी या छींक के साथ संयुक्त रूप से होता है। अकेले हल्के सिरदर्द का मतलब यह नहीं है कि आपको कोरोना हो गया है।

एसिडिटी

लोगों के बीच एक आम गलतफहमी ये हो रही है कि पेट क्षेत्र में किसी भी तरह की दिक्कत का अनुभव किया जाना  कोरोना का प्रारंभिक संकेत माना जा रहा है। हालांकि ऐसी भी रिपोर्टें हैं, जो बताती हैं कि दस्त शुरुआती लक्षणों में से एक हो सकता है। यह जानना जरूरी है कि पेट के उसी क्षेत्र में किसी भी अन्य प्रकार के दर्द के साथ बराबरी न की जाए जो और किसी कारण के भी हो सकता है।

ऐंठन

यदि आपको बार-बार हल्की ऐंठन महसूस हो रही है या वे महिलाएं, जो मासिक धर्म की ऐंठन से परेशान हैं तो यह चिंता का एक बहुत बड़ा कारण नहीं है। यह शायद आपको आपकी मांसपेशियों की ऐंठन के कारण हो सकता है और इसका कोविड -19 के साथ कोई संबंध नहीं है!

सांस लेने में तकलीफ

हालांकि यह सच है कि डब्ल्यूएचओ द्वारा उल्लेखित लक्षणों में से एक ठीक से सांस नहीं ले पाना है। यह ध्यान रखना ज़रूरी है कि इसका मतलब यह नहीं है कि आप कोरोना से संक्रमित हैं। केवल एक अकेले संकेत के बजाय एकाधिक लक्षणों का दिखना कोरोना की संभावना अधिक होती है। इसलिए, यह निरीक्षण करना आवश्यक है कि क्या खांसी, गले में दर्द या बुखार के साथ आपकी सांस फूल रही है।

सुनने में कठिनाई

जी हां, अगर आपको सुनने में परेशानी हो रही है, तो इसका मतलब यह नहीं है कि आपको कोरोना है। यह संकेत संभवत: आपके कान के मैल को साफ करने के लिए एक अनुस्मारक के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है जो सबसे लंबे समय तक आपके कान के अंदर जमा होता रहता है। या फिर तेज आवाज में संगीत सुनने का एक साइड-इफेक्ट भी हो सकता है लेकिन यह निश्चित रूप से वायरस के साथ कोई संबंध नहीं रखता है।

Related Articles