मकड़ी के विशाल जाल से ढका Australia का ये शहर, Video देख हो जाएंगे हैरान

ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्सड में एक बड़े तूफान और बाढ़ आने के बाद गिप्सलैंड, विक्टोरिया में बड़े पैमाने पर मकड़ी के जाले घिरे हुए है

नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया (Australia) के न्‍यू साउथ वेल्‍स (New South Wales) में एक बड़े तूफान और बाढ़ आने के बाद गिप्सलैंड, विक्टोरिया में बड़े पैमाने पर मकड़ी (Spider) के जाले घिरे हुए है। ऐसा लग रहा है जालों का बहुत बड़ा पारदर्शी चादर है मैदान में घास और पौधों को अपनी आगोश में ढक लिया है। ये जालें ऑस्ट्रेलिया के बुशलैंड को कवर करते हैं।

बाढ़ के पानी का प्रकोप

ये मकड़ी के जाले इतने बड़े है कि वे मैदान में घास और पौधों को ढकने वाली पारदर्शी जाल की तरह दिख रही है। स्थानीय लोगों ने इस विशाल मकड़ी क जाले का वीडियो को सोशल मीडिया में शेयर की हैं। जानकारी के मुताबिक मकड़ियां (Spiders) बाढ़ के पानी के प्रकोप से बचने और निचले इलाकों में अपने घरों को हुए नुकसान से बचने के लिए इस बड़े जाल को ऊंचे जगह पर ले जाने के लिए बुनती हैं।

40,000 प्रजातियों की पहचान

मकड़ी आर्थ्रोपोडा संघ का एक प्राणी है। यह एक प्रकार का कीट है। इसका शरीर शिरोवक्ष (सिफेलोथोरेक्स) और उदर में बंटा रहता है। इसकी लगभग 40,000 प्रजातियों की पहचान हो चुकी है। इसका उदर खंड रहित होता है और उपांग नहीं लगे रहते हैं। इसके सिरोवक्ष से चार जोड़े पैर लगे रहते हैं। इसमें श्वसन बुक-लंग्स द्वारा होता है। इसके पेट में एक थैली होती है जिससे एक चिपचिपा पदार्थ निकलता है, जिससे यह अपना जाल बुनता हैं। यह मांसाहारी जन्तु है। जाल में कीड़े-मकोड़ों को फंसाकर खाता है।

 

मकड़ियां हवा में सांस लेने वाले आर्थ्रोपोड हैं जिनके 8 पैर होते हैं, आम तौर पर जहर इंजेक्ट करने में सक्षम नुकीले चीलेरे, और रेशम निकालने वाले स्पिनरनेट। वे अरचिन्ड का सबसे बड़ा क्रम हैं और जीवों के सभी आदेशों में कुल प्रजातियों की विविधता में सातवें स्थान पर हैं। मकड़ियां अंटार्कटिका को छोड़कर हर महाद्वीप पर दुनिया भर में पाए जाते हैं।

यह भी पढ़ेCBSE 12th Result 2021: 31 जुलाई को आएगा रिजल्ट, इस आधार पर मिलेगा छात्रों को अंक

Related Articles