टीम इंडिया में ये हो सकते है बड़े बदलाव, BCCI ने किया CAC का गठन

0

टीम इंडिया के मौजूदा हेड कोच रवि शास्त्री और उनके सहयोगी सपोर्ट स्टाफ का कार्यकाल जल्द समाप्त होने वाला है। वेस्टइंडीज टूर के बाद रवि शास्त्री एंड कंपनी टीम इंडिया के साथ नहीं रहेगी। ऐसे में बीसीसीआइ ने मुख्य कोच समेत कई पदों के लिए वैकेंसी निकाली है। इसका फैसला क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी को करना है, जो अब नई बनेगी।बीसीसीआइ के क्रिकेट ऑरेशंस के जनरल मैनेजर सबा करीब ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त की गई कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स से क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी यानी सीएसी के लिए नए नाम देने के बारे में पूछा है। सीएसी को सीओए टीम इंडिया का हेड कोच बनाने के लिए मॉनिटर करेगी।

बीसीसीआइ के अधिकारी ने बताया है, “इस सीएसी में इस बार भी तीन सदस्य होंगे जिन पर किसी भी तरह का हितों के टकराव का मामला ना हो। सीएसी का चुनाव बीसीसीआइ की एनुएल जनरल मीटिंग(AGM) में होगा। सीओए के सदस्यों की बैठक 26 जुलाई को होनी है। इससे पहले सबा करीम ने सीएसी के सदस्यों के नाम मांगे हैं।

गौररतलब है कि क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी यानी सीएसी में इससे पहले बैटिंग लीजेंड सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण थे। लेकिन, हितों के टकराव के मामले को लेकर सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण ने इससे इस्तीफा दे दिया था, जबकि सौरव गांगुली को लेकर अभी तक मामला साफ नहीं हुआ है।

माना जा रहा है कि इस बार सीएसी में टीम इंडिया को साल 1983 में वर्ल्ड कप जिताने वाले कपिल देव होंगे, जो इस तीन सदस्यों वाली कमेटी को लीड करेंगे। कपिल देव के अलावा इसमें पूर्व कोच अंशुमन गायकवाड और पूर्व भारतीय महिला खिलाड़ी शांता रंगास्वामी हो सकती हैं। इन्हीं नामों पर सीओए की मुहर लग सकती है।सीएसी, सीओए के साथ मिलकर सीनियर टीम के मुख्य कोच, बैटिंग कोच, बॉलिंग कोच, फील्डिंग कोच, फीजियो, स्ट्रेंथ एंड कंडीशनिंग कोच और एडमिनिस्ट्रेटिव मैनेजर का पद के लिए इंटरव्यू करेगी। BCCI के इनविटेशन के अनुसार नए कोचिंग स्टाफ का कार्यकाल 5 सितंबर 2019 से 24 नवंबर 2021 तक होगा। वहीं, एडमिनिस्ट्रेटिव मैनेजर एक साल के लिए अपाइंट किया जाएगा।

loading...
शेयर करें