यह मासूम बच्चा मरते हुए कह गया ऐसी बात की सुन दंग रह गये डॉक्टर

नई दिल्ली: कहा जाता है कि बच्चे भगवान के रूप होते हैं। वो जो देखते हैं उसे महसूस करते हैं और बिना किसी पूर्वाग्रह के अपनी बात रखते हैं। एक तरह से वो सच्चाई को बयां करते हैं। ये भी कहा जाता है कि जब कहीं लड़ाई या लड़ाई वाले हालात का निर्माण होता है तो सबसे ज्यादा बच्चे और महिलाएं प्रभावित होती हैं। जिस घटना का जिक्र हम करने जा रहे हैं वो किसी फिल्म की स्क्रिप्ट नहीं है बल्कि हकीकत है। एक ऐसे बच्चे की दास्तां है जो किसी को भी रोने के लिए मजबूर कर देगी और सोचने के लिए विवश कि क्या हम सत्ता हासिल करने के लिए मासूमों को बलि चढ़ा सकते हैं।

मामला सीरिया का है जहां विद्रोहियों के साथ वहां की सरकार लड़ाई लड़ रही है। लड़ाई ताकत की है। लेकिन शिकार आम लोग हो रहे हैं। सीरिया में बम हमले में एक तीन साल का बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया। उस बच्चे को अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल के बेड पर मौत के खिलाफ संघर्ष कर रहे बच्चे ने कहा कि वो सबकी शिकायत करेगा, वो भगवान को सबकुछ बताएगा।

uprootedpalestinians.wordpress.com ब्लॉग पर रिचर्ड एडमंडसन ने बच्चे की पूरी कहानी को बयां किया है और उसकी तस्वीर भी लगाई है। बम हमले में बच्चा बुरी तरह घायल हो गया था और उसे अंदरूनी ब्लीडिंग हुई थी।दर्द से कराहते हुए बच्चे ने कहा कि वो अपनी आत्मा भगवान को सौंप देगा। यह कहते हुए उसकी सांसों की डोर कट गई और उसका पार्थिव शरीर बेड पर निढाल हो गया और वो अनंत यात्रा पर निकल गया।

Related Articles