इस वजह से अद्भुत है साईं बाबा की महिमा

0

साईं बाबा से जुड़ी आस्था के आगे आज दुनिया झुकी हुई है। हर साल शिरडी में लाखों भक्तों की भीड़ जिस प्रकार जुटती है आप अंदाजा लगा सकते है की साई बाबा की महिमा कितनी अपरम्पार है। भक्तों को विश्वास है की जो भी साईं बाबा के ऊपर विश्वास करता है बाबा उसका कल्याण जरूर करते है। इनकी भक्तों में हर धर्म और प्रांत के लोग है, इस आष्टा में हिन्दू मुस्लिम का भेदभाव नहीं है। आइए आपको बताते है साई बाबा की अद्भुत महिमा के बारे में…

– साईं बाबा को एक चमत्कारी पुरुष, अवतार और भगवान का स्वरुप माना जाता है।
– इनको भक्ति परंपरा का प्रतीक माना जाता है।
– साईं बाबा का जन्म और उनसे जुड़ी दूसरी चीजें अभी अज्ञात हैं।
– इनका मूल स्थान महाराष्ट्र का शिरडी है, जहां पर भक्त इनके स्थान के दर्शन के लिए जाते हैं.- इनको भक्ति परंपरा का प्रतीक माना जाता है।
– साईं बाबा का जन्म और उनसे जुड़ी दूसरी चीजें अभी अज्ञात हैं।
– इनका मूल स्थान महाराष्ट्र का शिरडी है, जहां पर भक्त इनके स्थान के दर्शन के लिए जाते हैं।
– साईं को हर धर्म में मान्यता प्राप्त है, हर धर्म के मानने वाले साईं में आस्था रखते हैं।
– साई की उपासना बृहस्पतिवार के दिन विशेष रूप से की जाती है।
– मुख्यतौर पर तीन रूपों में की जाती है साईं की उपासना
– चमत्कारी पुरुष के रूप में, भगवान के रूप में और गुरु के रूप में।
– गुरु के रूप में इनकी पूजा उपासना सबसे उत्तम होती है।

साईं बाबा का जीवन दर्शन और उपदेश:

– साईं बाबा ने आमतौर पर कोई पूजा पद्धति या जीवन दर्शन नहीं दिया।
– एक ही ईश्वर और श्रद्धा-सबुरी पर ही उनका विशेष जोर रहा है।
– लेकिन उनके ग्यारह वचन उनके भक्तों के लिए उनका दर्शन हैं।
– इन ग्यारह वचनों में जीवन की हर समस्या का समाधान छुपा हुआ है।
– ये ग्यारह वचन दरअसल साईं बाबा के ग्यारह वरदान हैं।
– ये वचन अपने आप में अध्यात्म की बड़ी शिक्षाएं समेटे हुए हैं।

loading...
शेयर करें