श्री रेड्डी द्वारा यौन उत्पीड़न की शिकायतों पर तेलंगाना सरकार ने उठाया यह कदम

हैदराबाद: तेलुगू फिल्म उद्योग में कास्टिंग काउच को लेकर बढ़ते हंगामे के बीच यौन उत्पीड़न की शिकायतों से निपटने के लिए तेलंगाना सरकार ने एक विशेष सेल गठित करने का फैसला किया। टॉलीवुड के प्रतिनिधियों के साथ बैठक के बाद सिनेमेटोग्राफी मंत्री टी. श्रीनिवास यादव ने शनिवार को ऐलान किया कि फिल्म विकास निगम में एक विशेष सेल गठित किया जाएगा।

अभिनेत्री श्री रेड्डी द्वारा यौन उत्पीड़न की शिकायतों पर मचे बवाल के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है। हाल ही में टॉपलेस होकर विरोध करने को लेकर वह सुर्खियों में छाई थीं और कई महिला संगठनों से भी उन्हें समर्थन मिला।

मंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक में मूवी आर्टिस्ट एसोसिएशन (मा) के सदस्य और टॉलीवुड की प्रमुख हस्तियां शामिल हुईं।


यादव ने सबको इस विवाद को खत्म करने का सुझाव दिया। उन्होंने टॉलीवुड के प्रतिनिधियों से ऐसी घटनाए दोबारा नहीं होने देने को सुनिश्चित करने का आग्रह किया।

यह बैठक लोकप्रिय अभिनेता व जन सेना प्रमुख पवन कल्याण द्वारा मा और तेलुगू फिल्म चैंबर से विवाद को खत्म करने के लिए तत्काल कदम उठाने का आग्रह करने के एक दिन बाद हुई है।

पवन ने श्री रेड्डी का कवरेज करने के लिए कुछ तेलुगू टेलीविजन चैनलों के निशाना बनाया, जिन्होंने उनकी मां को गाली दी थी। उन्होंने लोगों से तीन चैनलों का बहिष्कार करने का आह्वान किया। अभिनेता ने इन चैनलों पर नग्नता परोसकर और गालियां देकर अपना धंधा चलाने का आरोप लगाया।

टेलीविजन एंकर से अभिनेत्री बनीं श्री रेड्डी ने कास्टिंग काउच के प्रति विरोध जताने के लिए टॉलीवुड में सात अप्रैल को तेलुगू फिल्म चैम्बर ऑफ कॉमर्स कार्यालय के सामने टॉपलेस होकर विरोध प्रदर्शन कर सनसनी मचा दी थी।

श्री रेड्डी के ऐसा करने से खफा मा ने अभिनेत्री पर प्रतिबंध लगा दिया, लेकिन राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग द्वारा अभिनेत्री के यौन उत्पीड़न के आरोपों पर तेलंगाना सरकार और केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को नोटिस भेजे जाने के बाद प्रतिबंध हटा लिया गया।

Related Articles