क्रॉस वोटिंग करने वाले विधायक को मिली बड़ी सज़ा, कांग्रेस उठाएगी ये सख्त कदम

गांधीनगर। राज्यसभा की तीन सीटों के लिए आज मतदान के दौरान आशंका के अनुरूप खुलेआम क्रॉस वोटिंग हुई। बेंगलुरू के रिसार्ट में एक साथ रखे गये 44 में से एक पार्टी विधायक ने समेत कुल आठ पार्टी विधायकों ने भाजपा के लिए मतदान कर दिया। जिसके बाद कांग्रेस ने कहा कि विरोधी गुट को मतदान करने वाले कांग्रेस विधायकों को तत्काल निलंबित किया जाएगा।

राज्यसभा

कुछ विधायकों ने पटेल के बजाय दूसरे प्रत्याशी के पक्ष में मतदान किया

कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत ने यहां पत्रकारों से कहा, जिस सदस्य ने भी विरोधी प्रत्याशी के पक्ष में मतदान किया होगा, उसे तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाएगा। मंगलवार को गुजरात में तीन राज्यसभा सीटों के लिए हुए मतदान में कांग्रेस के कुछ विधायकों ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहम पटेल के बजाय दूसरे प्रत्याशी के पक्ष में मतदान किया। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की जीत लगभग पक्की मानी जा रही है, लेकिन तीसरी सीट पर पटेल और भाजपा प्रत्याशी बलवंत सिंह राजपूत के बीच कांटे की लड़ाई है।

भाजपा ने अपनी साख पर बड़ा दांव लगाया है

हाल ही में कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए राजपूत को खड़ा कर भाजपा ने अपनी साख पर बड़ा दांव लगाया है। पल पल मोड बदल रहे इस चुनाव में कांग्रेस के एक साथ रखे गये 44 विधायकों में से एक साणंद के करमसिंह पटेल ने क्रॉस वोटिंग कर भाजपा को मतदान किया जिसके चलते कांग्रेस के पोलिंग एजेंट शक्तिसिंह गोहिल के साथ उनकी कहासुनी भी हुई। बताया जा रहा है कि उन्होंने उन्हें गद्दार तक करार दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button