UP में अब कोरोना से मरने वालों का फ्री में होगा अंतिम संस्कार, CM ने दिए आदेश

लखनऊ: सूबे में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण और उससे होने वाली मौतों को देखते हुए CM योगी आदित्यनाथ ने बड़ा आदेश जारी किया है. प्रदेश में अब कोरोना संक्रमित मरीज़ की मौत होने पर उसके अंतिम संस्कार पर कोई शुल्क नहीं लगेगा. मृतक की अंतिम क्रिया उसके धार्मिक मान्यताओं के अनुरूप कराई जाएगी.  मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को इसके अनुरूप सभी जरुरी कदम उठाने के निर्देश दिए है और इसे तत्काल प्रभाव से लागू करने को कहा है.

कोरोना संक्रमण को लेकर Team-11 के साथ हुई समीक्षा बैठक में CM ने इसका आदेश दिए है. गौर करने वाली बात है कि प्रदेश के कई जिलों से श्मशान घाटों पर लंबी लाइन और अव्यवस्थाओं की तस्वीरें सामने आ रही थीं. इतना ही नहीं कई जगहों पर अंतिम संस्कार के लिए मनमाना पैसा भी वसूला जा रहा था. जिसके बाद सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने अब यह फैसला लिया है.

जायडस कैडिला की नई दवा का भी हो प्रयोग

इसके अलावा CM योगी ने कहा कि Corona Infection के बीच हमारे चिकित्सा वैज्ञानिक दवाओं के नवीन विकल्पों की खोज में भी लगे हैं. हाल ही में Zydus-cadela कम्पनी की एक नई दवा को भारत सरकार के ड्रग कंट्रोलर ने Covid 19 मरीजों के उपयोगार्थ स्वीकृति दी है. इसे लखनऊ, प्रयागराज और वाराणसी जिलों के लिए उपलब्ध कराया जाए.

पर्याप्त मात्रा में रेमडेसिविर

ACS स्वास्थ्य ने बताया कि कल से प्रदेश में 2,500 मामले कम आए हैं और टेस्ट की संख्या भी बढ़ी है. अब तक 97,79,846 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग गई है. इनमे से 19,97,363 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज लगी है. रेमडेसिविर (Ramdesvir) दवा भी हमें पर्याप्त मात्रा में मिलने लगी है.

अस्पताल मरीज को वापस नहीं करेगा

यूपी के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल (Navneet Sehgal) ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि कोई भी अस्पताल मरीज को वापस नहीं करेगा. अगर सरकारी अस्पताल में बेड नहीं है तो निजी अस्पताल में मरीज को भेजा जाएगा और पूरा खर्च राज्य सरकार करेगी. प्रदेश में इस वक्त सैनिटाइजेशन का काम चल रहा है.

ये भी पढ़ें : CM योगी का सख्त आदेश, कोई भी अस्पताल मरीज को वापस नहीं करेगा, सरकार देगी खर्च

Related Articles

Back to top button