वाहनों पर जाति या बिरादरी लिखने वाले हो जाए सावधान! नियमों के उलंघन पर कटेगा चालान

महाराष्ट्र के एक शिक्षक हर्षल प्रभु ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को खत लिख कर उत्तर प्रदेश में जाति सूचक शब्द लिखे वाहनो को सामाजिक ताना बाना बिगड़ने का खतरा बताया था

लखनऊ: वाहनों पर जातिसूचक शब्द लिखने वालों के खिलाफ उत्तर प्रदेश पुलिस ने अभियान छेड़ दिया है। लखनऊ के नाका कोतवाली क्षेत्र में पुलिस ने ऐसे ही एक वाहन के स्वामी का चालान मोटर व्हीकल एक्ट 177 के तहत रविवार को काटा है।

पुलिस अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश के परिवहन विभाग ने आज एक सर्कुलर जारी कर जाति सूचक शब्द लिखकर गाड़ी चलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश जारी किये जिसके बाद सभी जिलों में पुलिस और संभागीय परिवहन विभाग के अधिकारियों ने कार्यवाही शुरू कर दी।

उन्होने बताया कि कानपुर का नम्बर लिखी एक नम्बर प्लेट पर जातिसूचक शब्द लिखा होने पर वाहन स्वामी पर 500 रूपये का जुर्माना ठोका गया। उन्होने कहा कि जाति सूचक शब्द लिखी गाड़ियों की धरपकड़ अब तेज की जायेगी।

दरअसल, महाराष्ट्र के एक शिक्षक हर्षल प्रभु ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को खत लिख कर उत्तर प्रदेश में जाति सूचक शब्द लिखे वाहनो को सामाजिक ताना बाना बिगड़ने का खतरा बताया था। प्रधानमंत्री कार्यालय ने यह शिकायत उत्तर प्रदेश सरकार को भेजी थी। इसके बाद अपर परिवहन आयुक्त ने जाति लिखे वाहनों के खिलाफ अभियान चलाने और उन्हें जब्त करने का अभियान चलाने का आदेश दिया है। सिर्फ लखनऊ में दो पहिया और चार पहिया समेत कुल 25 लाख वाहन हैं।

यह भी पढ़े:

Related Articles