खतरों में पहुंची हजारों नौकारियां, बंद होने के कगार पर यह बहुचर्चित कंपनी

0

नई दिल्ली। मैकडॉनल्ड्स एक बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि, उनका एक कंपनी से किया करार खत्‍म होने वाला है। कनॉट प्लाजा रेस्टोरेंट लिमिटेड (सीपीआरएल) उसका ब्रैंड नेम और ट्रेड मार्क इस्तेमाल करने के लिए छह सितंबर अधिकारिक रूप से नहीं रहेगा। जिस कारण दिल्‍ली समेत उत्तर भारत में आज से लोगों को मैकडॉनल्ड्स का बर्गर खाने को नहीं मिल पायेगा।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बख्शी के साथ स्थापित यह संयुक्त उपक्रम उत्तर और पश्चिम भारत में 169 मैकडॉनल्ड्स आउटलेट का संचालन करता है। जो आज से बंद होने के पास है। बंद होने के करीब से 7000 लोगों की नौकरी पर खतरे की घंटी बज रही है।

यह भी पढ़े- पेमेंट करने के लिए नहीं करना होगा ये काम, अब मुस्‍कुराइये

वही अगर पूरे मामले के विवाद पर गौर करें तो अमेरिका की दिग्गज कंपनी मैकडॉनल्ड्स और कनॉट प्लाजा रेस्टोरेंट्स (सीआरपीएल) के बीच लंबे समय से कानूनी जंग चल रही है। अगस्त 2013 में सीपीआरएल के मैनेजिंग डायरेक्टर पद से विक्रम बख्शी को हटाने के बाद से ही बख्शी और मैकडॉनल्ड्स के बीच लड़ाई जारी हुई थी, जो अब तक कायम है। उनके वकील का कहना है कि, “वो इसलिए हटाए गए क्योंकि मैकडॉनल्ड्स को लग रहा था कि बख्शी अनियमित वसूली गतिविधियों में शामिल थे, इसलिए कंपनी चाहती थी कि वो बाहर चले जाएं।”

loading...
शेयर करें