कन्नौज में धरने पर बैठे लेखपालों और वकीलों के बीच जमकर मारपीट, तीन लेखपाल घायल

कन्नौज में कलेक्ट्रेट परिसर में धरने पर बैठे लेखपालों और वकीलों के बीच विवाद जमकर बढ़ गया । धरने पर बैठे लेखपालों को अधिवक्ताओं ने पीट दिया । वकीलों की पिटाई से तीन लेखपाल को चोट आई है। महिला लेखपालों ने एडीएम ऑफिस में घुसकर अपनी जान बचाई। मौके पर पहुंचे डीएम रवींद्र कुमार ने दोनों पक्षों को अलग कर शांत कराया । घटना के बाद कलेक्ट्रेट परिसर को छावनी में तब्दील कर दिया है।

मामला सदर कोतवाली के कलेक्ट्रेट परिसर का है । एडीएम दफ्तर के बाहर लेखपाल धरने पर बैठे थे । डीएम को ज्ञापन देने पहुंचे सैकड़ो की संख्या में वकीलों ने लेखपालों पर हमला बोल दिया। आपको बता दे कि दो दिन पूर्व छिबरामऊ तहसील में महिला लेखपाल और वकीलों के बीच मारपीट हुयी थी जिसके बाद वकीलों ने जमकर बवाल किया।

पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर गभीर धाराओं में मुकदमा लिखा गया था। वकीलों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर लेखपालों ने अनिश्चित कालीन हड़ताल कर रखी थी। धरने पर बैठे लेखपालों पर अचानक सैकड़ो की संख्या में पहुंचे वकीलों ने हमला बोल दिया वकीलों ने पुलिस कर्मियों के सामने डंडो से लेखपालो को पीटा।

डीएम रवींद्र कुमार का कहना है कि उनको सूचना मिली थी की वकील ज्ञापन देने आ रहे है ।लेकिन जब वकीलों ने लेखपालों पर हमला किया तो उन्होंने मौके पर जाकर बीच बचाव कराया ।

लेकिन कुछ वकीलों ने लेखपालों की पिटाई कर दी। घटना में कुछ लेखपालों को चोटे आयी है उनका मेडिकल कराया जा रहा है। मामले में विधिक कार्यवाही की जाएगी।

Related Articles