पंजाब के बठिंडा में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत, तीनों के सिर में लगी गोली

बठिंडा में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मौत, हत्या और आत्महत्या का संदेह

बठिंडा: पंजाब बठिंडा शहर की कमला नेहरू कालोनी के एक घर में परिवार के तीन सदस्यों के आज सुबह शव बरामद किये गये। पुलिस ने बताया कि मृतकों की शिनाख्त चरणजीत सिंह  खोखर (45), पत्नी जसविंदर कौर (43) और बेटी सिमरन कौर (20)  के रूप में की गई है। तीनों के सिर में गोली लगने से मौत हुई है।

हत्या और आत्महत्या

चरणजीत सहकारी समिति में सचिव के रूप में कार्यरत थे। पुलिस मामले की हत्या और आत्महत्या के दोनों पहलुओं को ध्यान में रख कर जांच कर रही है। घटना कोठी नम्बर 387 में हुई है। मामले का खुलासा सुबह उस समय हुआ जब हर रोज की तरह दूध वाला घर में दूध देने के लिए पहुंचा। उसने कई बार घंटियां बजाईं लेकिन जब दरवाजा नहीं खुला तो किसी अनहोनी की आशंका के चलते उसने घर में प्रवेश किया तो तीनों के खून में लथपथ शव वहां पड़े देखे। उसने मामले की जानकारी आसपास के लोगों और पुलिस को दी।

मामले की जांच

पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि तीनों की हत्या हुई है या फिर परिवार में ही किसी पहले दो की हत्या कर खुद भी आत्महत्या की। मृतकों के परिवार में एक बेटा मनप्रीत सिंह (27) है जो इस समय इंग्लैड में रह रहा है। पुलिस अधीक्षक-सिटी जसपाल सिंह का कहना है कि तीनों लोगों को सिर में गोली लगी है। प्राथमिक जांच में यह हत्या का मामला लग रहा है। हालांकि मौके से कोई कोई हथियार या कारतूस नहीं मिला है। दूसरी ओर सूत्रों के मुताबिक यह भी सामने आया है कि चरणजीत पर करीब दो करोड़ रुपए के घोटाले का भी आरोप था और हो सकता है कि इसी के चलते किसी ने इन तीनों की हत्या की हो।

ग्रीन सिटी में आर्थिक तंगी

उल्लेखनीय है कि बठिंडा शहर में करीब एक माह बाद यह दूसरी घटना है। इससे पहले जहां ग्रीन सिटी में आर्थिक तंगी और प्रताड़ना से परेशान एक व्यापारी ने करीब एक माह पूर्व परिवार के तीन सदस्यों की हत्या कर खुद भी आत्महत्या कर ली थी।

यह भी पढ़े:शुभ मुहूर्त में कड़ी सुरक्षा के बीच अयोध्या की प्रसिद्ध चौदह कोसी परिक्रमा शुरु

यह भी पढ़े:इंदौर में नल-जल प्रदाय के लिए 580 योजनाओं को मंजूरी, 84 लाख 97 हजार रूपये की स्वीकृति

Related Articles

Back to top button