दलित हत्या मामलाः अबोहर से तीन लोग गिरफ्तार

0

crime-logo-733ec2c36b900fa7

चंडीगढ़। पंजाब के अबोहर में 27 साल के एक दलित व्यक्ति की हत्या के मामले में तीन और लोगों को गिरफ्तार किया गया है। शराब के एक कारोबारी के संदिग्ध गुर्गों ने दलित व्यक्ति के शरीर के अंग काट दिए थे।

चंडीगढ़ से किया गिरफ्तार
बठिंडा रेंज में उप महानिरीक्षक अमर सिहं चहल ने कहा कि हमने तीन और लोगों को गिरफ्तार किया है। चहल ने बताया कि गिरफ्तार किए गए तीनों लोगों की पहचान हरप्रीत हैरी, राधेश्याम और गुलाब के रूप में की गई है। उन्हें चंडीगढ़ के निकट एक स्थान से पकड़ा गया। इनके अलावा इस मामले में कल राजस्थान के एक अन्य व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया था जिसकी पहचान विकी के रूप में की गई है।

शुक्रवार को हुई थी घटना
शराब व्यापारी शिव लाल डोडा के संदिग्ध गुर्गों ने दलित व्यक्ति भीम सेन के शरीर के अंग काट दिए थे। सेन और हैरी के बीच अबोहर उपमंडलीय इलाके में एक फार्म हाउस में शुक्रवार रात को कहासुनी हुई थी जिसके बाद हैरी के नेतृत्व में सेन पर हमला किया गया। ऐसा बताया जा रहा है कि डोडा राज्य के एक प्रमुख राजनीतिक दल का एक सदस्य है।

पढ़ें: पंजाबः दो दलित लोगों के हाथ पैर काटे, एक की मौत

दोस्त भी हुआ घायल
हमले में सेन के मित्र गुरजंत सिंह जंटा का एक हाथ और एक पांव भी काट दिया गया। दोनों को एक निजी अस्पताल में ले जाया गया जहां भीम को मृत घोषित कर दिया गया। इस घटना के बाद पुलिस ने हैरी, राजा, राधेश्याम, वजीर, गुलाब, छज्जू, सिमरन, हैप्पी और कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या के मामले में भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या) समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

अकाली दल ने घटना को बताया गैंगवार
इस मामले के बाद आलोचनाओं का शिकार हो रहे सत्तारूढ शिअद ने कल इस घटना को गैंगवार का नतीजा बताया और कांग्रेस एवं पंजाब की अन्य पार्टियां से सत्ता हासिल करने लिए घटिया और अनैतिक तरीके अपनाकर इस मामले को जातिवादी रंग नहीं देने को कहा।

loading...
शेयर करें