मुंगेर : बोरवेल से बचाई गई 3 साल की मासूम, 30 घंटों तक लड़ती रही जिंदगी की जंग

पटना। जिला प्रशासन और SDRF की टीम की मेहनत और दुआओं ने तीन साल की मासूम को बोरवेल से बचा लिया है। मासूम सना करीब 30 घन्टों तक 110 फीट गहरे गड्ढे में फंसी रही और अपनी जिंदगी जंग लड़ती रही। दरअसल बिहार के मुंगेर जिले में मंगलवार शाम तीन साल की सना अपने घर में ही बने बोरबेल में गिर गई थी।

मुंगेर

बुधवार की रात उसे कड़ी मेहनत के बाद बचा लिया गया। आपको बता दें कि बिहार में मुंगेर जिले के कोतवाली थाना अंतर्गत मुर्गीयाचक मोहल्ला में मंगलवार को शाम में सना नाम की तीन साल की बच्ची घर के आंगन में एक बोरवेल में गिर गई। बच्ची अपने नानी के घर आई हुयी है। सना बोरवेल में 42 फीट पर फंसी हुई थी। संक्रा होने की वजह से सना को निकलने के लिए खुदाई करनी पड़ी। वहीँ बच्ची को बोरवेल से निकालने के लिए जिला प्रशासन, एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की तरफ से युद्ध स्तर पर बचाव अभियान चलाया गया।बचाव अभियान मंगलवार रात को शुरू किया गया।

इस बीच तेज बारिश की वजह से खतरा बढ़ता जा रहा रहा था। सबकी सांसें टंगी हुई थी। बुधवार को भी लगातार बारिश बच्ची तक पहुंचने में रुकावट पैदा कर रही थी। इसी बीच बचाव टीम बच्ची को आक्सीजन पहुंचा रहा था और उसके माता पिता से उसकी बात करा रहा था। साथ ही उसे पानी और खाने के लिए चॉकलेट दिया गया।

बच्ची को बचाने के बाद तत्काल उसे अस्पताल पहुँचाया गया। अस्पताल ले जाने पहले ही उसके लिए ग्रीन कॉर्नर बना लिया गया था। ट्रैफिक खाली करा दिया गया था। सभी वाहनों को एक तरफ चलने के निर्देश दिए गए थे। अब बच्ची खतरे के बाहर है। वहीँ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बच्ची के बाहर निकाले जाने पर ख़ुशी जाहिर की है। मुख्यमंत्री ने इसके साथ ही परिजनों एवं बचाव दल के तमाम सदस्यों को बधाई दी है। वहीं बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी बचाव दल की प्रशंसा की है।

 

Related Articles