किसानों की समस्याओं के निस्तारण के लिए नोडल अधिकारी करे समीक्षा- सीएम योगी

धान क्रय की स्थिति की समीक्षा करते हुये कहा कि प्रदेश के सभी जिलों को भेजे गए नोडल अधिकारी इस बात की समीक्षा करें

लखनऊ, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में स्थापित किए गए धान क्रय केन्द्रों पर किसानों को कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। यदि उन्हें कोई समस्या हो, तो उसका त्वरित निस्तारण किया जाए। सभी नोडल अधिकारी किसानों को सहूलियत प्रदान करने के दृष्टिगत रणनीति तैयार करें।

सीएम योगी ने रविवार को अपने सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक में धान क्रय की स्थिति की समीक्षा करते हुये कहा कि प्रदेश के सभी जिलों को भेजे गए नोडल अधिकारी इस बात की समीक्षा करें कि जिलों में जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों, अपर जिलाधिकारियों,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षकों, उप जिलाधिकारियों,उप पुलिस अधीक्षकों, नायब तहसीलदारों और निरीक्षकों ने किसान संगठनों से संवाद स्थापित किया है अथवा नहीं। इसकी रिपोर्ट मंगलवार तक सरकार को उपलब्ध कराई जाए। जिन जिलों में कर्मचारी समय पर नहीं आते हैं, उन जिलों में जिलाधिकारी से स्पष्टीकरण मांगा जाए।

नोडल अधिकारी हर जरूरतमंद किसान का धान खरीदने की करे व्यवस्था

उन्होने कहा कि प्रत्येक जरूरतमंद किसान का धान हर हाल में खरीदा जाए। धान क्रय केन्द्रों पर बोरों की पर्याप्त संख्या में व्यवस्था की जाए। धान क्रय केन्द्र पर किसानों को सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार किसानों की सभी समस्याओं के समाधान के लिए तत्पर है। किसानों को उनकी उपज का लाभकारी मूल्य सुनिश्चित कराने की दिशा में निरन्तर प्रयास किए जा रहे हैं। राज्य सरकार पूरी संवेदनशीलता से किसानों के साथ खड़ी है।

इसे भी पढ़े; किसानों की आवाज बुलंद करने के लिए कांग्रेस करेगी संवाद कार्यक्रम-सीएम गहलोत

बैठक में मुख्य सचिव आरके तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश चन्द अवस्थी, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य आलोक कुमार समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles