किस्मत को है चमकाना, तो रोज नाभि पर इत्र लगाना  

0

हमारे हिंदू धर्म में वास्तुशास्त्र और पुराणों का बड़ा महत्व है। आपको बता दें सभी व्यक्ति की ग्रह दशा उसके जीवन से जुड़ी होती है। जिन लोगों की कुंडली में ग्रह अपनी झग पर शुभ स्थिति में विराजमान होते हैं उन्हें धन, वैभव, और यश की कोई कमी नहीं होती है। वहीँ जिन लोगो के जीवन में ग्रह अपनी जगह से इधर-उधर होते हैं उन्हें कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

 इत्र लगाना  

ऐसा कहा जाता अगर कुंडली में शुक्र कमजोर हो, तो लोगों को धन, और यश की कमी हो जाती है। शास्त्रों में कहा गया है कि भगवान् विष्णु का जन्म नाभि से हुआ है। इसलिए इसे पवित्र माना जाता है। ईसाईयों के धर्म ग्रंथ बाईबिल में भी भी कहा गया है कि नाभि धरती और स्वर्ग को जोड़ता है। इसलिए यह एक पवित्र स्थान होता है। चलिए आज हम आपको बताएंगे शुक्र और नाभि से जुड़े कुछ उपाय जिनके इस्तेमाल से जल्द मिलेगी राहत।

ऐसा कहा जाता है कि व्यक्ति को घर से बाहर जाते समय नाभि में इत्र जरुर लगाना चाहिए। नाभि में इत्र लगाने से उस इन्सान को कभी धन और यश की कमी नहीं होती है।

अगर आप चंदन, गुलाब और मोगरे का इत्र अपने नाभि पर लगते हैं तो वह आपके लिए ज्यादा शुभ और असरकारी होगा।

जिन लोगों को ज्यादा गुस्सा आता है और नींद नहीं आती उन लोगों को अपनी नाभि पर चंदन और मोगरे का इत्र लगाना चाहिए।

अगर किसी को भी माइग्रेन यानी सिरदर्द की समस्या है, तो ऐसे लोगों को नाभि में इत्र लगाना बेहद जरुरी होता है।

loading...
शेयर करें