जातियों के छोटे छोटे टुकड़ो को जोड़कर बहुजन समाज को भाईचारे का विशाल पर्वत खड़ा करना

लखनऊ: लक्ष्य की महिला टीम ने “घर घर भीम चर्चा” अभियान के तहत एक भीम चर्चा का आयोजन लखनऊ के महामाया नगर नजदीक मायावती कॉलोनी इंदिरा नगर में लक्ष्य कमांडर इन्दु जी के निवास स्थान पर किया गया। जिसमें ” क्या जातियों में बटा हुआ समाज कभी देश का हुक्मरान बन सकता है ?” विषय पर विस्तार से चर्चा की गई तथा जातियों को जोड़ने में महापुरुषों द्वारा किये गए प्रयासों पर भी प्रकाश डाला गया।

हमें ईमानदारी के साथ यह बात स्वीकार करनी चाहिए कि बहुजन समाज में भाईचारे का बहुत अभाव है और हमारे दुःख दर्दों का या यूँ कहें कि हमारी दुर्दशा का मुख्य कारण कोई और नहीं है वल्कि हम लोग स्वयं ही है क्योंकि हम लोग आपस में मजबूत भाई चारा बनाने में विफल रहें है, अपनी अपनी जातियों के दलदल में गर्व महसूस कर रहे है जोकि बहुत ही खतरनाक है।

हमारे समाज में भाईचारा न होने के कारण ही हजारों वषों से मुट्ठी भर लोग हमारा शोषण करते आ रहें है। अगर हम लोगों को अपनी स्थिति में सुधार लाना है तो हम लोगों को यह बात अच्छे से समझनी होगी कि हम लोगों को एक दूसरे का सम्मान करना होगा और समाज में मजबूत भाईचारा बनना होगा अर्थात् जातियों के छोटे छोटे टुकड़ो को जोड़कर बहुजन समाज को भाईचारे का विशाल पर्वत खड़ा करना होगा। यह बात लक्ष्य की महिला कमांडरों ने भीम चर्चा के दौरान कही।

इस भीमचर्चा मे लक्ष्य कमांडर रेखा आर्या, विजय लक्ष्मी गौतम, छाया कौशल, एडवोकेट लक्ष्मी गौतम, पुष्पा भारती, विमलेश चौधरी, इंदु, सृष्टि, शिशर, सुरेश राम, मुन्नी लाल, अविनाश गौतम, रवि चौधरी व राजा ने हिस्सा लिया।

Related Articles