फिल्मों में संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए आदिल हुसैन ने कहा…

0

मुंबई। अभिनेता आदिल हुसैन का कहना है कि समावेशी संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए हर तरह की फिल्मों के लिए जगह होनी चाहिए। आदिल ने कहा, “मुझे लगता है कि यह एक बहुत अच्छा संकेत है और हम (उद्योग के सदस्य) विभिन्न प्रकार के सिनेमा को शामिल कर रहे हैं और पहचान रहे हैं।”

उन्होंने कहा,”यहां हर प्रकार के सिनेमा की जगह होनी चाहिए। मुझे बॉलीवुड की मनोरंजक फिल्में देखना पसंद है लेकिन मुझे यथार्थवादी सिनेमा देखना भी पसंद है। यह अद्भुत समय है। अभिनेता ने अंतर्राष्ट्रीय भारतीय फिल्म अकादमी (आईफा) से इतर यह बात कही। उन्हें यहां ‘मुक्ति भवन’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता श्रेणी में नामित किया गया था।

उन्होंने कहा कि यह उनके लिए एक ऐतिहासिक फिल्म है। उन्होंने कहा, “अगर मैं तीन (मेरी पसंदीदा फिल्मों) बेहतरतीन फिल्में बताईं तो उसमें ‘मुक्ति भवन’ एक है। यह उस चीज के बारे में बात करता है जिसके बारे में हम बात नहीं करते और वह मृत्यु है।”

loading...
शेयर करें